comScore

फिर मिले शरद पवार और प्रशांत किशोर, 15 दिनों के भीतर यह तीसरी मीटिंग

फिर मिले शरद पवार और प्रशांत किशोर, 15 दिनों के भीतर यह तीसरी मीटिंग

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने बुधवार को नई दिल्ली में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के सुप्रीमो शरद पवार से मुलाकात की। ये मुलाकात आठ विपक्षी दलों के नेताओं की पवार के आवास पर एक दिन पहले हुई बैठक के बाद हुई है। सूत्रों के मुताबिक, किशोर और पवार के बीच बंद कमरे में हुई बातचीत करीब एक घंटे तक चली। 

15 दिनों के भीतर दोनों नेताओं की यह तीसरी मुलाकात है। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में तृणमूल कांग्रेस की प्रचंड जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले किशोर ने 11 जून को मुंबई में पवार के आवास पर लंच के दौरान मुलाकात की थी। उन्होंने सोमवार को दिल्ली में फिर से राकांपा प्रमुख से मुलाकात की। पवार के साथ इन मुलाकातों ने बीजेपी के खिलाफ तीसरा मोर्चा बनाने के लिए विपक्षी दलों के साथ आने की अटकलों को हवा दी है।

पवार ने मंगलवार को दिल्ली में अपने आवास पर तृणमूल कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, आम आदमी पार्टी, राष्ट्रीय लोक दल और वाम दलों सहित आठ विपक्षी दलों के नेताओं की एक बैठक की मेजबानी की थी। हालांकि, उस चर्चा में भाग लेने वाले नेताओं ने कहा था कि यह राष्ट्रीय मंच की ओर से आयोजित समान विचारधारा वाले व्यक्तियों की "गैर-राजनीतिक" बैठक थी। राष्ट्रीय मंच को पूर्व वित्त मंत्री और टीएमसी उपाध्यक्ष यशवंत सिन्हा ने अन्य लोगों के साथ मिलकर बनाया है।

पवार के आवास पर विपक्षी पार्टी के नेताओं की बैठक में नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला, सपा के घनश्याम तिवारी, रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी, आप से सुशील गुप्ता, भाकपा के बिनॉय विश्वम, माकपा से नीलोत्पल बसु और टीएमसी उपाध्यक्ष यशवंत सिन्हा आदि शामिल हुए थे। कांग्रेस के पूर्व नेता संजय झा और जनता दल-यूनाइटेड (जद-यू) के पूर्व नेता पवन वर्मा ने भी बैठक में भाग लिया था। राजनेताओं के अलावा, जावेद अख्तर, पूर्व राजदूत केसी सिंह और जस्टिस (सेवानिवृत्त) एपी शाह जैसी कई प्रतिष्ठित हस्तियां भी मंगलवार की बैठक में मौजूद थीं।

मंगलवार को विपक्षी नेताओं की बैठक से पहले, पवार ने उसी दिन राकांपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक की अध्यक्षता की थी। इस बैठक में उन्होंने अपनी पार्टी के नेताओं के साथ भविष्य की नीतियों, अगले लोकसभा चुनावों में भूमिका और वर्तमान राष्ट्रीय मुद्दों पर विस्तृत चर्चा की थी।

कमेंट करें
PYSxV
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।