दैनिक भास्कर हिंदी: WB Assembly Elections: 8वें और आखिरी चरण के लिए सुबह 7 बजे से वोटिंग, उत्तर कोलकाता में ऑडिटोरियम के पास फेंका गया बम

April 29th, 2021

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के 8वें और आखिरी चरण के लिए सुबह 7 बजे से वोटिंग की जा रही है। आखिरी चरण के चुनाव में 84 लाख से ज्यादा मतदाता 35 सीटों पर अपना वोट डाल रहे हैं। मुर्शिबाद और बीरभूम की 11-11 विधानसभा सीटों, मालदा की 6 और कोलकाता की 7 विधानसभा सीटों पर वोटिंग हो रही है। वहीं हिंसा रोकने के लिए चुनाव आयोग ने केंद्रीय सुरक्षाबल की 753 कंपनियां तैनात की हैं। वोटिंग के बीच उत्तर कोलकाता महाजती सदन ऑडिटोरियम के पास बम फेंका गया है। चुनाव आयोग पर इसकी रिपोर्ट मांगी है।

कांग्रेस और टीएमसी के बीच मुख्य मुकाबला
आठवें चरण में जिन 35 सीट के लिए वोटिंग हो रही है, इनमें मालदा की 6, बीरभूम की 11, मुर्शिदाबाद की 11 और कोलकाता नॉर्थ की 7 सीटें शामिल हैं। मालदा और मुर्शिदाबाद में 7वें चरण में भी कुछ सीटों पर वोटिंग हुई थी। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी के गृह क्षेत्र मुर्शिदाबाद जिले में माकपा-कांग्रेस-आईएसएफ गठबंधन को अच्छे नतीजों की उम्मीद है। इस चरण में सबकी नजरें अल्पसंख्यक वोटों पर हैं। इस बार ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस (TMC) और कांग्रेस के बीच मुख्य मुकाबला रहने वाला है। पिछले सात फेज में TMC और भाजपा ही आमने-सामने रही हैं।

पीएम मोदी की अपील
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करके लोगों से वोट डालने की अपील की। उन्होंने कहा कि आज बंगाल में आखिरी चरण का चुनाव है, कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए आप लोग अपना वोट डाले और लोकतंत्र के इस महापर्व को और मजबूत करें। वहीं टीएमसी नेता डेरेक ओ ब्रायन ने एक बार फिर चुनाव आयोग पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि आखिरी चरण में 84 लाख वोटर है, जिसमें करीब 80 फीसदी यानी 68 लाख लोग वोट करेंगे, इस फेज को चुनाव को संपन्न कराने के लिए 11800 बूथ पर 3 लाख से अधिक स्टाफ लगे हैं... यानी चुनाव आयोग ने 71 लाख लोगों की जिंदगी दांव पर लगा दी।

किस चरण में हुआ कितना मतदान?
बंगाल में 27 मार्च को हुए पहले चरण में 84.13 प्रतिशत मतदान हुआ था। इसी तरह 1 अप्रैल को दूसरे चरण में 86.11 प्रतिशत, 6 अप्रैल को तीसरे चरण में 84.11 प्रतिशत, 10 अप्रैल को चौथे चरण में 79.90 प्रतिशत, 17 अप्रैल को पांचवें चरण में 82.49 प्रतिशत, 22 अप्रैल को छठे चरण में 82 फीसदी और 26 अप्रैल को हुए सातवें चरण में 76.90 प्रतिशत लोगों के मताधिकार का प्रयोग किया था। वहीं 2 मई को बंगाल के साथ केरल, असम, तमिलनाडु और पुडुचेरी के विधानसभा चुनावों के नतीजे भी घोषित होंगे।

खबरें और भी हैं...