comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

बॉक्सिंग: कैसीनो शिप की छत पर होगा विजेंदर का अगला मुकाबला 

बॉक्सिंग: कैसीनो शिप की छत पर होगा विजेंदर का अगला मुकाबला 

हाईलाइट

  • विजेंदर ने 2008 ओलंपिक में कांस्य पदक जीता था
  • पेशेवर करियर में उनका 12-0 का रिकॉर्ड है
  • अब तक का यह 13वां और भारत में पांचवा मुकाबला होगा

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पेशेवर मुक्केबाजी में अपने पदार्पण के बाद से अब तक अजेय चल रहे अनुभवी भारतीय मुक्केबाज विजेंदर सिंह एक साल से भी अधिक समय के बाद 19 मार्च को गोवा में अपने अगले मुकाबले के लिए रिंग में उतरेंगे। जल्द ही विजेंदर के प्रतिद्वंद्वी के नाम की घोषणा की जाएगी।

विजेंदर की यह फाइट अपनी तरह की पहली फाइट होगी, जोकि मैजेस्टिक प्राइड कैसीनो शिप के छत पर आयोजित की जाएगी। मैजेस्टिक प्राइड कैसीनो शिप आयोजन स्थल के भागीदार के रूप में इससे जुड़ा है। विजेंदर के प्रमोटर आईओएस बॉक्सिंग प्रमोशंस ने बयान में कहा कि अपनी तरह का यह पहला मुकाबला मेजिस्टिक प्राइड कैसीनो जहाज की छत पर होगा। मैजीस्टिक प्राइड गोवा के पणजी में मांडवी नदी के किनारे खड़ा जहाज है।

खबर में खास

  • विजेंदर ने 2008 ओलंपिक में कांस्य पदक जीता था।
  • इसके बाद पेशेवर मुक्केबाजी में आ गए।
  • पेशेवर करियर में उनका 12-0 का रिकॉर्ड है।
  • इनमें से उन्होंने आठ बाउट में नॉकआउट जीत दर्ज की है। 
  • अब तक का यह 13वां और भारत में पांचवा मुकाबला होगा।
  • भारत में इससे पहले, नई दिल्ली, मुंबई और जयपुर में विजेंदर के मुकाबले हो चुके हैं।
  • डब्ल्यूबीओ ओरिएंटल सुपर मिडलवेट और डब्ल्यूबीओ एशिया पैसिफिक सुपर मिडिलवेट चैंपियन बन चुके हैं विजेंदर।
  • विजेंदर ने अपनी पिछली बाउट में नवंबर 2019 में घाना के चार्ल्स एडमू को हराया था।

रिंग में वापसी करने को लेकर मैं बेहद उत्साहित हूं: विजेंदर
विजेंदर ने इस मुकाबले को लेकर कहा कि रिंग में वापसी करने को लेकर मैं बेहद उत्साहित हूं। शिप पर होने वाले इस फाइट को लेकर तो मैं और ज्यादा उत्साहित हूं। यह कुछ ऐसा है, जो भारत में पहले कभी नहीं हुआ है और मैं इय यूनिक पेशेवर मुकाबले का हिस्सा बनकर बहुत खुश हूं। मैं फिर से रिंग में उतरने को तैयार हूं। इस बाउट के लिए मैं कड़ी ट्रेनिंग कर रहा हूं और खुद को फिट रख रहा हूं। मेरे लिए प्रतिद्वंद्वी मायने नहीं रखता है, क्योंकि मेरा ध्यान अपने अजेयक्रम को जारी रखने पर है।

कमेंट करें
7WSIU