दैनिक भास्कर हिंदी: शतरंज : प्रणव और रक्षिता ने डब्ल्यूवाईसीसी में भारतीय चुनौती बरकरार रखी

October 5th, 2019

मुम्बई, 5 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारत ने यहां जारी वलर्ड यूथ चेस चैम्पियनशिप के अंडर-14 कटेगरी में अपनी चुनौती बरकरार रखी है। इसकी अगुवाई करते हुए फिडे मास्टर प्रणव आनंद और विमेन इंटरनेशनल मास्टर रक्षिता रवि ने शनिवार को आसान जीत दर्ज की।

प्रणव ने पोलैंड के सबास्टियन पोलटोराक को यू-14 कटेगरी में हराया। इस जीत के साथ प्रणव ने अजरबैजान के आईएम अदिन एस. और भारत के आदित्य सावंत के साथ लीडरबोर्ड साझा किया है। पांचवें राउंड के मुकाबले शनिवार देर रात तक चलेंगे।

प्रणव के खाते में 4.5 अंक हैं और वह ओवरनाइट लीडर एलआर श्रीहरि से आगे निकल गए हैं। सुलेयामनी के हाथों हारने के बाद श्रीहरि अपनी लीड गंवा बैठे।

रक्षिता ने दूसरी ओर, बेलारूस की वारवारा पोलियाकोवा को हराया। वह यू-14 गलर्स कटेगरी में अकेले टॉप पर हैं। उनके खाते में 4.5 अंक हैं। टॉप सीड डब्ल्यूआईएम दिव्या देशमुख ने भी अपनी मुख्य प्रतिद्वंद्वी भारत की आन्या अग्रवाल को हराया और खिताब की दौड़ में बनी रहीं। दिव्या के खाते में 3.5 अंक हैं। वह एक मैच हारी हैं जबकि एक में उन्हें ड्रॉ खेलना पड़ा।

यू-18 ओपन कटेगरी में भारत के स्टार ग्रैंड मास्टर आर. प्राग्गा पोल पोजीशन पर हैं। उनके खाते में 4.5 अंक हैं। प्राग्गा ने पांचवें राउंड में अपने ही देश के अर्जुन कल्याण को हराया। वह आयरलैंड के आईएम आर्यन जी. के साथ लीड पर हैं। आर्यन ने बेलारूस के आईएम जारूबित्स्की वी. को हराया।

देश के अन्य जीएम पी. इनियान को पांचवें राउंड में भारत के ही आईएम आदित्य मित्तल से ड्रॉ खेलना पड़ा।

यू-16 ओपन कटेगरी में भी भारत की चुनौती बरकरार है। कैंडीडेट मास्टर अरोनयाक घोष ने लीडरबोर्ड पर अपने साथ कायम इंटरनेशनल मास्टर रुडिक माकारियन (रूस) के साथ पहले स्थान पर हैं। इस सूची में इरान के एफएम आर्ष दांगली ने भारत के एफएम अमित मोक्ष को हराया। दांगली भी संयुक्त रूप से टॉप पर हैं।