दैनिक भास्कर हिंदी: क्रिकेट: अब जहीर अब्बास ने कहा, मैच फिक्सिंग को अपराध की श्रेणी में लाया जाए

April 21st, 2020

हाईलाइट

  • अब जहीर अब्बास ने कहा, मैच फिक्सिंग को अपराध की श्रेणी में लाया जाए

डिजिटल डेस्क, कराची। पाकिस्तान के दिग्गज बल्लेबाज जहीर अब्बास ने मंगलवार को कहा कि भ्रष्टाचार ने भी पाकिस्तान क्रिकेट को उसी तरह से ही बर्बाद कर दिया है, जिस तरह से 2009 में श्रीलंकाई टीम के ऊपर हुए आतंकी हमले ने किया था। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने क्रिकेट में मैच फिक्सिंग और स्पॉट फिक्सिंग को अपराध की श्रेणी में लाने के लिए सरकार से इस पर कानून बनाने को कहा है।

अब्बास ने कहा, पाकिस्तान बोर्ड के लिए यह बहुत अच्छी बात है क्योंकि हम काफी लंबे समय से भ्रष्टाचार के साथ नरम रवैया अपनाते आ रहे हैं। भ्रष्टाचारियों ने पाकिस्तान में कई बड़े घोटालों को अंजाम दिया, जिसने क्रिकेट के विकास और हमारे देश की छवि को लेकर बुरी तरह नुकसान पहुंचाया है। उन्होंने कहा, अगर श्रीलंका टीम की बस पर आतंकवादी हमले ने पाकिस्तान को बड़ा झटका दिया है और हमारी टीम को विदेश में जाकर खेलने के लिए मजबूर होना पड़ा है तो वहीं दूसरी तरफ कई वर्षों से चले आ रहे भ्रष्टाचार ने भी हमारी क्रिकेट को कम नुकसान नहीं पहुंचाया है।

पूर्व कप्तान ने कहा, इतने वर्षों से पाकिस्तान क्रिकेट को कई अच्छे खिलाड़ियों को खोना पड़ा है। साथ ही हमने दुनियाभर के क्रिकेटर को गलत संदेश भी दिया है और उन्हें भी लालच दिया तथा भ्रष्ट बनाने की कोशिश ही की है। अब्बास ने कहा कि किसी भी भ्रष्टाचारी को बख्शा नहीं जाना चाहिए क्योंकि क्रिकेटर सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार कर सकता है। उन्होंने कहा, मैं कहता हूं कि कोई भी नहीं बचना चाहिए क्योंकि यह सबसे खराब चीज है जो एक क्रिकेटर अपने देश, टीम और खेल के लिए करता है।

इससे पहले, पीसीबी अध्यक्ष एहसान मनी ने कहा था, मैं पहले ही इस बारे में सरकार से बात कर चुका हूं क्योंकि आस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और श्रीलंका जैसे देश पहले ही मैच फिक्सिंग को अपराध की श्रेणी में ला चुके हैं। पीसीबी उस प्रक्रिया को करीब से समझ रहा है, जिसे श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने मैच फिक्सरों के खिलाफ कानून बनाने के दौरान अपनाया था। अब्बास से पहले, पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद ने कहा था कि मैच फिक्सिंग करने वाले क्रिकेटरों को फांसी पर चढ़ा देना चाहिए।