दैनिक भास्कर हिंदी: सही खिलाड़ी वही जो टीम संस्कृति बनाए और सम्मान दिखाए : जयवर्धने

May 2nd, 2020

हाईलाइट

  • सही खिलाड़ी वही जो टीम संस्कृति बनाए और सम्मान दिखाए : जयवर्धने

कोलंबो, 2 मई (आईएएनएस)। श्रीलंका के पूर्व कप्तान और आईपीएल फ्रेंचाइजी मुंबई इंडियंस के कोच महेला जयवर्धने ने कहा है कि टीम में अहंकार रखने वाले खिलाड़ी तब तक सही है, जब तक टीम में ड्रेसिंग रूम का मौहाल सही है।

जयवर्धने ने पहले श्रीलंका के कप्तान और फिर मुंबई इंडियंस के कोच के रूप में काफी सफलता प्राप्त की हैं। जयवर्धने तीन साल से मुंबई इंडियंस के साथ हैं और मुंबई इंडियंस की टीम दो बार खिताब जीत चुकी है।

जयवर्धने क्रिकइंफो से कहा, यह (अहंकार) होना अच्छा है। इसमें कुछ भी नुकसान नहीं है। यह सिर्फ पहचानने और सुनिश्चित करने की बात है कि वे इसे कैसे आगे बढ़ाएं। हर किसी को इस स्तर का होना चाहिए, क्योंकि वे अच्छे खिलाड़ी हैं। इसलिए आप कोशिश करते हो कि वे खुद को साबित करें। आपको सिर्फ ऐसा करने की जरूरत होती है।

उन्होंने कहा, यह सभी खिलाड़ियों से पेशेवर तरीके से और सम्मानपूर्वक बात करना होता है। यही टीम संस्कृति होती है जो आप बनाते हो। एक बार जब आप यह संस्कृति बना लेते हो तो किसी एक के लिए इससे आगे जाना मुश्किल हो जाता है।

पूर्व कप्तान ने कहा, बाकी के खिलाड़ी उस व्यक्ति को ग्रुप स्तर से नीचे ले आएंगे। अगर आपने ऐसा अच्छा माहौल नहीं बनाया है तो आपको समस्या हो सकती है क्योंकि इसकी कोई सीमाएं नहीं होती।

मुंबई इंडियंस के कोच ने कहा, एक बार जब आप संस्कृति बना लेते हैं और उसे खरीदने के लिए कोशिश करते हैं तो यह काफी आसान हो जाता है। हम उन्हें अपने अंदर अभिव्यक्ति की आजादी भी देते हैं।

- - आईएएनएस