आंध्र प्रदेश: तटीय आंध्र के पास चक्रवाती तूफान असानी हुआ कमजोर

May 12th, 2022

हाईलाइट

  • बी.आर. अंबेडकर ने लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी

डिजिटल डेस्क, विशाखापत्तनम। तटीय आंध्र प्रदेश के कुछ हिस्सों में तेज हवाओं के साथ बारिश गुरुवार को भी जारी है, जबकि चक्रवाती तूफान असानी अब कमजोर पड़ गया है।

मछलीपट्टनम और नरसापुर के बीच तट को पार करने के बाद, असानी कमजोर हो गया। भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, पिछले छह घंटों के दौरान डीप डिप्रेशन व्यावहारिक रूप से स्थिर रहा और उसी क्षेत्र में कमजोर होकर डिप्रेशन में बदल गया। यह मछलीपट्टनम के पश्चिम के करीब केंद्रित था।

आईएमडी बुलेटिन में कहा गया है कि यह अगले 12 घंटों के दौरान उसी क्षेत्र के आसपास रहने और निम्न दबाव क्षेत्र में इसके और कमजोर होने की संभावना है। तटीय आंध्र प्रदेश और रायलसीमा में गुरुवार को कई स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा और अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा की संभावना है। अगले 12 घंटों के दौरान पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी के आसपास 65 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की संभावना है। आंध्र प्रदेश के कृष्णा, पूर्वी और पश्चिमी गोदावरी जिलों और पुडुचेरी के यनम में 65 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की संभावना है।

12 घंटों के दौरान पश्चिम मध्य और उससे सटे उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में समुद्र की स्थिति काफी खराब रहने की संभावना है और उसके बाद इसमें सुधार होगा। आईएमडी ने अगले 12 घंटों के दौरान पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी और उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी में मछली पकड़ने को पूरी तरह से स्थगित करने का सुझाव दिया है। मछुआरों को सलाह दी गई है कि वे गुरुवार को आंध्र प्रदेश और ओडिशा तटों और बंगाल की उत्तर-पश्चिमी खाड़ी के साथ-साथ पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी में न जाएं। हालांकि चक्रवाती तूफान कमजोर होकर डिप्रेशन में बदल गया है, लेकिन आंध्र प्रदेश राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के निदेशक बी.आर. अंबेडकर ने लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी है।

 

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.