कार्रवाई: ईडी ने शिपयार्ड कंपनी की जब्त की 2747 करोड़ रुपए की संपत्ति

September 22nd, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। 22 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा के बैंक घोटाले से जुड़े मनी लांडरिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने एबीजी शिपयार्ड लिमिटेड कंपनी से जुड़ी 2747 करोड़ रुपए से ज्यादा की संपत्ति जब्त कर ली है। महाराष्ट्र और गुजरात में स्थित कंपनी की संपत्तियों के साथ बैंक खाते भी जब्त किए गए हैं। बुधवार को ही केंद्रीय जांच ब्यूरो ने मामले में एबीजी शिपयार्ड लिमिटेड कंपनी के तत्कालीन प्रबंध निदेशक ऋषि अग्रवाल को गिरफ्तार किया है।

ईडी की ओर से गुरूवार को जारी बयान में कहा गया है कि कंपनी की सूरत और दहेज में स्थित शिपयार्ड के साथ गुजरात और महाराष्ट्र में स्थित कृषियोग्य जमीन, प्लॉट, कई व्यावसायिक और रिहाइशी परिसरों के साथ कंपनी ने नाम पर स्थित बैंक खाते जब्त किए गए हैं। जब्त की गई संपत्तियां एबीजी शिपयार्ड लिमिटेड उससे जुड़ी कंपनी बर्माको एनर्जी सिस्टम्स लिमिटेड और धनंजय दातार, सविता दातार, कृष्ण गोपाल तोशनीवाल, विरेन आहूजा के नाम पर हैं जिनकी कुल कीमत 2747 करोड़ 69 लाख रुपए है।

बता दें कि ईडी ने मामले में सीबीआई की एफआईआर के आधार पर कंपनी और उसके पदाधिकारियों के खिलाफ इसी साल फरवरी महीने में मनी लांडरिंग के आरोप में एफआईआर दर्ज कर छानबीन शुरू की है। आरोप है कि मुंबई स्थित आईसीआईसीआई बैंक की अगुआई वाले बैंकों के समूह से कारोबार बढ़ाने के नाम पर 22842 करोड़ रुपए का कर्ज लिया और उसे फर्जी कंपनियों के जरिए दूसरे कामों के लिए इस्तेमाल कर लिया।