पणजी: गोवा के मुख्यमंत्री की युवाओं से अपील : नशा उन्मूलन में मदद करें

September 17th, 2022

डिजिटल डेस्क,  पणजी। गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने शनिवार को युवाओं से आग्रह किया कि वे नशीली दवाओं के खतरे को खत्म करने और तटीय राज्य को देश की पर्यटन राजधानी बनाने के प्रयास के तहत नशीले पदार्थो को ना कहें अभियान में भाग लें। सावंत ने यहां अंतर्राष्ट्रीय तटीय सफाई दिवस के अवसर पर स्वच्छ तट, सुरक्षित समुद्र कार्यक्रम को संबोधित करते हुए यह बात कही।

उन्होंने कहा, नार्कोटिक्स रोधी प्रकोष्ठ और पुलिस इस पर काम कर रही है। यहां तक कि इसमें युवाओं को भी भाग लेना चाहिए और दिखाना चाहिए कि गोवा दुनिया भर के सभी लोगों के लिए एक सुरक्षित गंतव्य है। उन्होंने कहा, गोवा सूर्य, रेत और समुद्र का राज्य है, जो दुनियाभर के पर्यटकों को आकर्षित करता है। हमें बेहतर, सुरक्षित और टिकाऊ भविष्य के लिए एकता के साथ काम करना जारी रखने का संकल्प लेना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गोवा के लोगों ने पर्यटन और नीली अर्थव्यवस्था के लिए 104 किलोमीटर लंबे समुद्र तट का अच्छा उपयोग किया है। उन्होंने कहा, हमें इसे अगली पीढ़ी को देने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि गोवा के समुद्र तटों पर कई पर्यटक आते हैं और इसलिए इन क्षेत्रों को साफ और सुरक्षित रखने की जरूरत है।

सावंत ने कहा, 365 दिनों के लिए इस तरह की जागरूकता की जरूरत है। गोवा के समुद्र तट दुनिया भर के पर्यटकों को आकर्षित करते हैं। उन्होंने समुद्र तटों पर हो रहे नशीले पदार्थो की ब्रिकी के खतरे के बारे में सचेत करते हुए कहा कि नो टू ड्रग्स पहल पूरे साल लागू की जाएगी। उन्होंने कहा, गोवा भारत में पर्यटन की राजधानी बने, हम इसके लिए प्रयास कर रहे हैं।

 

 (आईएएनएस)

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.