आकाशीय बिजली का कहर: पांढुरना विकासखंड के तीन अलग-अलग गांवों में हुई घटनाएं

June 23rd, 2022

डिजिटल डेस्क,छिंदवाड़ा। गुरूवार की दोपहर पांढुरना विकासखंड के तीन अलग-अलग स्थानों पर आकाशीय बिजली का कहर बरपा। जिसमें तीन लोगों की दर्दनाक मौत हो गई, जबकि दो मवेशियों सहित तीन लोग बुरी तरह घायल हो गए। घटना के दौरान यह सभी अपने-अपने खेत में काम कर रहे थे। तभी तेज बारिश और गर्जना के साथ आकाशीय बिजली मौत बनकर आ गिरी।

नांदनवाड़ी पुलिस चौकी प्रभारी दिनेश सिंह बघेल ने बताया कि ग्राम चांगोबा के समीप संतोष राजगुरू कवड़ेती (42) अपने खेत में दो महिला मजदूर कविता प्रकाश ईवनाती (34) और मुन्नीबाई मुन्ना उमरझिरे (55) के साथ फंटे निकालने का काम कर रहे थे। तेज बारिश होने के चलते यह लोग झोपड़ी में जाकर खड़े हो गए। इसी दौरान तेज गड़गड़ाहट के साथ झोपड़ी पर आकाशीय बिजली आ गिरी। जिसमें संतोष की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं कविता व मुन्नीबाई बुरी तरह झुलस गए। इस घटना में झोपड़ी में बंधे दो बैल भी झुलसकर घायल हुए। दोनों घायल महिला मजदूरों को उपचार के लिए पांढुर्ना के सिविल अस्पताल लाया गया, वहीं संतोष के शव को पीएम के लिए भेजा गया।

दूसरी घटना ग्राम पठारा में हुई, जिसमें आकाशीय बिजली की चपेट में आने से सुमित्रा केशव वरठी (65) की मौत हो गई। तीसरी घटना ग्राम दूधा के पास हुई, जिसमें सुषमा पिता गोपाल भलावी (19) की मौत हुई और गोपाल भलावी (40) घायल हुए। यह दोनों पिता-पुत्री खेत में काम कर रहे थे और बारिश के दौरान खेत में ही मौजूद पेड़ के नीचे जाकर खड़े हो गए थे। तभी आकाशीय बिजली मौत बनकर यहां गिरी, जिसमें पुत्री की मौत हो गई। घायल पिता का सिविल अस्पताल में उपचार चल रहा है।