राजस्थान सियासत: पायलट ने सीएम गहलोत को पिता समान बताया

June 27th, 2022

डिजिटल डेस्क,जयपुर। पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने सोमवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को अपने पिता के समान बताया और कहा कि वह स्वस्थ भावना से उनकी टिप्पणियों को लेते हैं। हाल ही में गहलोत ने बयान देते हुए आरोप लगाया कि 2020 में केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने सचिन पायलट के साथ मिलकर राजस्थान में कांग्रेस की सरकार गिराने की कोशिश की। इसके बाद, राज्य मंत्री शांति धारीवाल ने उनके बयान का समर्थन किया और कहा कि गहलोत ने जो कहा वह सही था। हैरानी की बात यह है कि ये बयान कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा पायलट के धैर्य की तारीफ करने के बाद आए थे। इन तमाम जुबानी हमलों के बीच पायलट चुप रहे।

हालांकि सोमवार को सचिन पायलट ने कहा कि जब राहुल गांधी जैसे नेताओं ने मेरे धैर्य की तारीफ की तो गहलोत के इस बयान से किसी को बेवजह परेशान नहीं होना चाहिए। पायलट ने कहा कि बल्कि इसे सही भावना से लिया जाना चाहिए। उन्होंने गहलोत को अपने पिता के समान बताया और पूर्व में गहलोत द्वारा उनके लिए इस्तेमाल किए गए निकम्मा और नकारा जैसे शब्दों को दोहराते हुए उन्होंने कहा कि गहलोत अनुभवी हैं, बुजुर्ग हैं और मैं उनकी बातों को बुरी भावना से नहीं लेता।

सैन्य भर्ती की अग्निपथ योजना के खिलाफ राज्यव्यापी आह्वान पर सत्याग्रह का नेतृत्व करने के लिए पायलट सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र टोंक पहुंचे। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार के सत्ता में होने के बावजूद हम जोधपुर से चुनाव हार गए। यह हमारी बहुत बड़ी भूल थी। शेखावत को भाजपा ने जोधपुर संसदीय चुनाव में गहलोत के बेटे वैभव के खिलाफ मैदान में उतारा था, जहां वे हार गए थे। पायलट ने दावा किया कि 2024 के लोकसभा चुनाव में कोई चूक नहीं होगी। चुनाव में हमारी पार्टी गजेंद्र सिंह शेखावत को हराएगी। उन्होंने कहा कि राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव में हम भाजपा को सत्ता से दूर रखने के लिए काम करेंगे।

 

सोर्स- आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.