दैनिक भास्कर हिंदी: Rishi Kapoor Died: बॉलीवुड एक्टर ऋषि कपूर का 67 वर्ष की उम्र में निधन, मुंबई के चंदनवाड़ी में हुआ अंतिम संस्कार

April 30th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। बॉलिवुड एक्टर ऋषि कपूर लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया हैं। कपूर खानदान की ओर से संदेश जारी कर बताया गया कि गुरुवार सुबह 8.45 बजे ऋषि कपूर ने अंतिम सांस ली। वह 67 साल के थे। बुधवार को सांस लेने में समस्या के बाद उन्हें मुंबई के एनएच. रिलायंस हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था। ऋषि कपूर का अंतिम संस्कार मुंबई के मरीन लाइंस इलाके के चंदनवाड़ी श्मशान घाट में विद्युत शवदाह गृह में किया गया। लॉकडाउन के चलते अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए बेहद करीबी 20 लोगों को ही इजाजत दी गई थी।

बेटे रनबीर ने पूरी की अंतिम संस्कार की विधि
दोपहर करीब 3.45 बजे उनका पार्थिव शरीर श्मशान घाट पहुंचा था। बेटे रनबीर कपूर ने मुखाग्नि दी और पिता के अंतिम संस्कार की विधि को पूरा किया। अंतिम संस्कार के दौरान मुंबई पुलिस ने नीतू कपूर, रीमा जैन, मनोज जैन, अरमान जैन, आदर जैन, अनीषा जैन, राजीव कपूर, रणधीर कपूर, सैफ अली खान, करीना कपूर खान, बिमल पारिख, नताशा नंदन, अभिषेक बच्चन, डॉक्टर तरंग, आलिया भट्ट, अयान मुखर्जी, जय राम, रोहित धवन, राहुल रवैल को मौजूद रहने की इजाजत दी गई थी।

ल्यूकेमिया कैंसर से पीड़ित थे ऋषि कपूर
वर्ष 2018 में खबर आई थी कि वो ल्यूकेमिया कैंसर से पीड़ित हैं, जिसके बाद करीब एक साल तक वो न्यूयॉर्क में ही रहे और उनका इलाज चला। पिछले साल सितंबर में वह अमेरिका से भारत लौटे थे। ल्यूकेमिया एक प्रकार का ब्लड कैंसर है जिसमें शरीर में सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या असामान्य रूप से बढ़ती हैं और इनके आकार में भी परिवर्तन होता है। ये जमाव स्वस्थ्य रक्त कोशिकाओं के विकास में भी बाधक बनती हैं।

ऋषि कपूर के परिवार का संदेश
ऋषि कपूर के परिवार की ओर से संदेश मीडिया के लिए जारी किया गया है। उन्होंने अपने संदेश में लिखा- हमारे प्रिय ऋषि कपूर का ल्यूकेमिया के साथ दो साल की लड़ाई के बाद आज सुबह 8:45 बजे अस्पताल में शांति से निधन हो गया। अस्पताल के डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ ने कहा कि उन्होंने अंतिम समय तक हमारा मनोरंजन किया। परिवार, दोस्त, भोजन और फिल्में उनका फोकस बनी रहीं। इस दौरान उनसे मिलने वाला हर कोई इस बात से हैरान था कि उन्होंने अपनी बीमारी को हावी नहीं होने दिया।

ऋषि कपूर के निधन पर शोक की लहर
-प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्विटर पर लिखा, बहुआयामी, प्रिय और जीवंत...ये ऋषि कपूर जी थे। वह प्रतिभा का पावरहाउस थे। मैं हमेशा सोशल मीडिया पर भी अपनी बातचीत को याद करूंगा। वह फिल्मों और भारत की प्रगति के बारे में भावुक थे। उनके निधन से दुखी हूं। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति संवेदना। ओम शांति।

-ऋषि कपूर के निधन पर बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने ट्वीट कर लिखा- वो गया.. ऋषि कपूर गए... अभी उनका निधन हुआ। मैं टूट गया हूं!

Image

-ऋषि कपूर के निधन पर बॉलीवुड के सुपरस्टार अक्षय कुमार ने ट्वीट कर लिखा कि ऐसा लगता है कि हम एक बुरे सपने के बीच में हैं, ऋषि कपूर के जाने से बड़ा झटका लगा है। ये दिल तोड़ने वाला है। वो महान थे, एक शानदार दोस्त थे।

-अभिनेता अनुपम खेर ने ट्वीट किया- ऋषि कपूर से ज़्यादा ज़िंदादिल, बेबाक़,ज़ोर ज़ोर से ठहाके लगाने वाला,एक बच्चे जैसी जिज्ञासा रखने वाला मैंने अपनी ज़िंदगी में कभी नहीं देखा। भगवान ने उनका सांचा बनाकर तोड़ दिया था। दुख इतना गहरा है, आंसू निकल ही नहीं रहे। न्यू यॉर्क में उनके साथ आख़िरी वीडियो। आप हमेशा रहोगे। हैलो, हैलो, नमस्ते

 

 

-बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर ऋषि कपूर के साथ तस्वीर शेयर की। प्रियंका ने लिखा कि दिल भारी है क्योंकि आज एक सदी खत्म हो गई है।

-कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ऋषि कपूर के निधन पर दुख व्यक्त किया है। राहुल गांधी ने लिखा कि ये हफ्ता भारतीय सिनेमा के लिए काफी दुख देने वाला है, एक और लिजेंड ऋषि कपूर आज हमारे बीच से चले गए। एक शानदार अभिनेता, जो हर जेनरेशन के लिए प्रेरणादायी थी। उन्हें बहुत याद किया जाएगा। इस दुख की घड़ी में उनके परिवार, मित्रों और प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदना।

-सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने भी ऋषि कपूर के जाने पर दुख व्यक्त किया। उन्होंने लिखा कि ऋषि कपूर का अचानक चला जाना काफी हैरान करने वाला है। वह एक शानदार अभिनेता के साथ-साथ एक शानदार इंसान भी थे। उनके परिवार के प्रति संवेदनाएं। ओम शांति।

राज कपूर के मंझले बेटे थे ऋषि कपूर
ऋषि कपूर का जन्म 4 सितम्बर 1952 को मुंबई के चेंबूर में हुआ था। ऋषि कपूर राज कपूर के मंझले बेटे थे। ऋषि कपूर का निक नेम चिंटू था। ऋषि कपूर के दो भाई हैं। रणधीर कपूर और राजीव कपूर और दोनो ही बॉलीवुड अभिनेता हैं। ऋषि कपूर ने अपनी प्रारम्भिक पढ़ाई अपने भाईयों के साथ कैंपियन स्कूल, मुंबई और उसके बाद आगे की पढ़ाई मेयो कॉलेज अजमेर से पूरी की। ऋषि कपूर ने 1980 में एक्ट्रेस नीतू सिंह के साथ शादी की थी। ऋषि कपूर और नीतू ने शादी से पहले एक दूसरे को पांच साल तक डेट किया था उसके बाद वे शादी के बंधन में बंध गए थे। ऋषि कपूर के दो बच्चे हैं। रणबीर कपूर और रिधिमा कपूर।

पहली बार श्री 420 में आए थे नजर
ऋषि कपूर ने अपने करियर की शुरुआत बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट की थी। श्री 420 के गाने प्यार हुआ इकरार हुआ में वह पहली बार नजर आए थे। इस गाने में राज और नरगिस के पीछे बारिश में चलने वाले तीन बच्चों में से एक ऋषि कपूर थे। उस समय ऋषि की उम्र 3 साल थी और नरगिस ने उन्हें चॉकलेट का लालच देकर इस गाने में लिया था। इसके बाद   वह अपने पापा राज कपूर की फिल्म 'मेरा नाम जोकर में नजर आए। इस फिल्म में उन्होंने राज कपूर के बचपन का किरदार निभाया था। इस फिल्म के लिए उन्हें राष्ट्रीय पुरस्कार से भी नवाजा गया था।

ऋषि ने बॉलीवुड को दीं कई रोमांटिक फिल्में
ऋषि कपूर ने बॉलीवुड में बतौर हीरो 1973 में फिल्म बॉबी से कदम रखा था। इस फिल्म में उनके अपोजिट डिंपल कपाड़िया थीं। ऋषि कपूर अपने जमाने के चॉकलेटी हीरोज में से एक थे। उन्होने बॉलीवुड की कई रोमांटिक हिट फ़िल्में दीं। ऋषि ने अपनी पत्नी के साथ 12 फिल्मों में अभिनय किया है। बॉबी, चांदनी, दीवाना, नगीना, प्रेम रोग, कपूर एंड सन्स, अमर अकबर अंथोनी, हीना, कर्ज, मेरा नाम जोकर, प्रम ग्रंथ, सरगम, अग्नीपथ, लव आज कल, मुल्क जैसी फिल्में की है। ऋषि कपूर नेटफ्लिक्स पर रीलीज हुई मूवी राजमा चावल में भी नजर आए थे। अभिनय की दुनिया में तहलका मचाने के बाद ऋषि ने निर्देशन में भी हाथ आजमाया। उन्होंने 1998 में अक्षय खन्ना और ऐश्वर्या राय बच्चन अभिनीत फिल्म आ अब लौट चलें निर्देशित की।   

फिल्मी करियर में ऋषि कपूर ने जीते कई अवॉर्ड
ऋषि कपूर ने अपने फ़िल्मी करियर में सैकड़ों फ़िल्में की हैं। इस दौरान उन्होंने कई अवार्ड भी अपने नाम किये। बॉबी के लिए 1974 में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार और साल 2008 में फिल्म फेयर लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से भी नवाजा गया था।