comScore

हैवानियत की हद - 10 साल की लड़की का करता रहा यौन उत्पीड़न, धमकी से डरे रहे मां-बाप

हैवानियत की हद - 10 साल की लड़की का करता रहा यौन उत्पीड़न, धमकी से डरे रहे मां-बाप

डिजिटल डेस्क, नागपुर। नाबालिग छात्रा के साथ यौन प्रताड़ना का मामला उजागर हुआ है। आरोपी ने पीड़िता के साथ पूरे परिवार को खत्म करने की धमकी दी थी, इसलिए वे डरे हुए थे। चाइल्ड लाइन की पहल पर मामला दर्ज कर कपिल नगर पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है। पीड़िता (10) कक्षा 3 की छात्रा है। माता-पिता मजदूरी करते हैं। यह परिवार मूलत: मध्य प्रदेश से रोजी-रोटी की तलाश में नागपुर आया हुआ था। करीब तीन महीने पहले बालिका दोपहर को स्कूल से घर आई और बस्ती में रहने वाली मौसी के घर जा रही थी। तभी पड़ोस में रहने वाले रवि तुमडाम उर्फ पंडित (42) ने उसे अपने घर में चाकलेट देने के बहाने बुलाया। उस वक्त रवि के घर में भी कोई नहीं था। उसकी पत्नी भी मजदूरी करती है। पढ़ाई- लिखाई की बात करते-करते रवि ने उसे चाकलेट के लिए 10-15 रुपए दिए और छेड़छाड़ करने लगा। इसके बाद यौन प्रताड़ित किया। बालिका के रोने और शोर मचाने पर मां बाप सहित उसको जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद बालिका वहां से चली गई। इस बीच, जब कुछ हंगामा नहीं हुआ तो आरोपी निश्चिंत हो गया। अब बालिका यौन प्रताड़ना का शिकार होती रही। बालिका ने परिजन को पूरी बात बताई, तो वे डर गए। किसी से जिक्र करने की भी हिम्मत नहीं जुटा पाए।

पुलिस मामला दर्ज करने में टालमटोल करती रही

इसी बीच ‘युवा ज्योति इंडियन सेंटर फॉर इंटिग्रेटेड एजेंसी’ (चाइल्ड लाइन सहायक संस्था) की समन्वयक छाया गुरव और अंकिता गड़पायले को किसी अन्य के माध्यम से घटना की जानकारी मिली। दोनों बालिका से बात करने के लिए उसके घर गईं और उसके माता-पिता से शिकायत दर्ज कराने के लिए कहा, पर वे तैयार नहीं हुए। तब उन्होंने जिला महिला व बाल विकास अधिकारी अपर्णा कोल्हे को इसकी जानकारी दी। अपर्णा कोल्हे ने कपिलनगर पुलिस को पत्र लिखकर कार्रवाई करने की मांग की, लेकिन पुलिस टालमटोल करती रही। इधर, बालिका के माता-पिता परिवार के साथ कलमेश्वर भाग गए। जिला महिला व बाल विकास अधिकारी के प्रयासों और आला अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद बुधवार को प्रकरण दर्ज किया गया। आरोपी रवि को गिरफ्तार कर लिया गया है।

कमेंट करें
mVLCc