दैनिक भास्कर हिंदी: नाबालिग से सामूहिक बलात्कार, आरोपी पुलिस गिरफ्त में

December 20th, 2018

डिजिटल डेस्क, शहडोल। तीन युवकों ने एक नाबालिग लड़की को जंगल में ले जाकर अपनी हवस का शिकार बनाया। तीनों युवकों ने बारी-बारी से उसका बलात्कार किया। किसी तरह चंगुल से छूटकर निकली लड़की ने घर पहुंचकर आप बीती सुनायी, जिसके बाद पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करते हुए तीनों आरोपियों की पताशाजी करते हुए गिरफ्तार कर लिया है। लड़की अपने दोस्त के साथ घूमने गयी थी।

आरोपियों ने बनाया वीडियो
जानकारी के मुताबिक 16 वर्षीय किशोरी अपने किसी दोस्त के साथ बुधवार की शाम करीब 7.30 बजे कल्याणपुर में केंद्रीय विद्यालय के पास घूमने गई थी। रास्ते में स्कूटी पर बैठकर बातचीत कर रहे थे। उसी समय पुरानी बस्ती से तीन युवक वहां पहुंचे। पहले दोनों को जबरन बैठाकर मोबाइल पर वीडियो बनाया, फिर उसे दिखाकर बदनाम करने की धमकी दी। ऐसा नहीं करने के एवज में पैसों की मांग की। किशोरी के साथी ने विरोध किया तो मारने की धमकी दी। युवकों ने स्कूटी व मोबाइल अपने पास रख लिया और किशोरी के दोस्त को पैसा लेने भेज दिया। इसके बाद सड़क से दूर जंगल की ओर ले जाकर तीनों ने किशोरी के साथ दुष्कृत्य किया। इस बीच किशोरी का साथी वहां से भागकर पहले किशोरी के परिजनों के पास फिर कोतवाली थाना पहुंचकर मामले को दर्ज कराया।

तीनों आरोपियों को कि या गिरफ्तार
पीड़ित अपने परिजनों के साथ कोतवाली पहुची और रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने धारा 376 डी तथा 5/6 पास्को एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया। किशोरी द्वारा बताए गए हुलिए व आरोपियों द्वारा एक दूसरे का लिए गए नामों के आधार पर पुलिस ने तलाश किया। टीआई रावेंद्र द्विवेदी ने बताया कि रात में ही आरोपियों शैफ अख्तर, शिवम उर्फ झल्ले कोरी तथा गोलू विश्वकर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में उन्होंने अपराध करना कबूल कर लिया। गुरुवार को तीनों को न्यायालय में पेश किया गया, जहां से ज्यूडीशियल रिमांड में भेज गया।

महिला अपराधों में हो रही वृद्धि
जिले में महिला संबंधी अपराधों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। पुलिस में दर्ज आकड़ों पर ही नजर डाली जाए तो गत वर्ष के मुकाबले इस साल बलात्कार की 15 अधिक घटनाएं हुई हैं। जनवरी से लेकर 15 दिसंबर तक चालू वर्ष में 88 महिलाएं, युवती व किशोरियां बलात्कार की शिकार हुईं, जबकि गत वर्ष 2017 में इसी अवधि में 74 मामले पुलिस तक पहुंचे थे। इसी प्रकार दहेज हत्या के 6 मामले इस वर्ष अभी तक दर्ज हो चुके हैं।

 

खबरें और भी हैं...