नागपुर: यूक्रेन में फंसे हैं शहर के 26 छात्र, प्रशासन ने राज्य आपदा नियंत्रण कक्ष को भेजे सभी नाम 

February 27th, 2022

डिजिटल डेस्क, नागपुर। रूस-यूक्रेन के बीच जारी जंग के कारण नागपुर जिले के 26 विद्यार्थी यूक्रेन में फंसे हैं। यह संख्या बढ़ सकती है। जिला प्रशासन ने एयरलिफ्ट करने के लिए इन विद्यार्थियों के नाम राज्य आपदा नियंत्रण कक्ष मुंबई को भेजे हैं। यहां से सभी नाम केंद्र सरकार को भेजे जाएंगे। अभी तक जिले के 26  विद्यार्थियों के पालकों ने जिला प्रशासन से संपर्क किया है। जिलाधीश कार्यालय स्थित नियंत्रण कक्ष क्र. 0712-2562668 में संपर्क कर सकते हैं। हेल्पलाइन नं. 1800118797 (टोल फ्री) भी जारी किया गया है। 

नाम इस प्रकार हैं : यूक्रेन में फंसे विद्यार्थियों में पीयूष मिलिंद गोमासे, तनुजा धर्मराज खंडाले, सेजल मिलिंद सोनटक्के, हिमांशु मोतीराम पवार, रवीना प्रभाकर थकीत, मनाली रामटेके, महिमा झलपुरे, सुजान शेख, विराज वालदे, सजल वालदे, साम्या मून, रुषिल मिर्जापुरे, प्राची सिरोथिया, श्वेता देवरे, योगेश ढोमणे, श्रेया लाडे, दीपणकर बाैरी, खुशाल पटले, नेहा वाहणे, वैष्णवी वानखेडे, महक उके, माहीन खान, प्रफुल पराते, स्वीकृति उस्के व उमेंद्र भोयर शामिल हैं। 

मांगा जाएगा यूक्रेन गए लोगों का डेटा : यूक्रेन में नागपुर जिले के कितने लोग फंसे हैं, इसका डेटा जिला प्रशासन के पास भी नहीं हैै। अभी तक जिन विद्यार्थियों के पालकों ने जिला प्रशासन से संपर्क किया, उतने ही नाम जिला प्रशासन दर्ज कर सका हैै। जिला प्रशासन की तरफ से विशेष शाखा को पत्र लिखकर यूक्रेन गए लोगों का डेटा मंगाया जाएगा। सभी नाम एक साथ राज्य आपदा नियंत्रण कक्ष मुंबई भेजे जाएंगे। निवासी उपजिलाधीश विजया बनकर ने कहा कि यूक्रेन गए लोगों की सूची  मांगी जाएगी।