दैनिक भास्कर हिंदी: 300 करोड़ के 400 CCTV कैमरों पर शक, जांच के आदेश

January 20th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। स्मार्ट सिटी योजना अंतर्गत शहर में लग रहे 400 CCTV कैमरे बंद होने की शिकायतें हैं। कैमरों की देखभाल नहीं हो रही है। इस कारण शहर में होने वाली दुर्घटनाओं और अपराध का चित्रण नहीं होने से कोई सबूत नहीं मिल रहा है। शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने इसकी थर्ड पार्टी से जांच कराने के निर्देश दिए हैं। मनपा मुख्यालय में शहर की समस्याओं की समीक्षा करते हुए पालकमंत्री बावनकुले ने कहा कि शहर में चौक-चौक पर कैमरे लगे हैं, लेकिन वे काम नहीं कर रहे हैं। उसमें फुटेज मिलते नहीं हैं। अनेक कैमरों के डायरेक्शन गलत हैं। उनकी तरफ किसी का ध्यान नहीं है। बैठक में CCTV का काम करने वाली एजेंसी गलत जानकारी देती है। शहर में कितने CCTV लगे हैं, किसी को जानकारी नहीं है। पुलिस को भी कितनी CCTV शुरू है, बंद है इसकी जानकारी नहीं है। बैठक में बताया गया कि  300 करोड़ रुपए का यह ठेका है और ठेकेदारों को अब तक 147 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया है। 

खेल के मैदानों को भी बेच दिया
पालकमंत्री ने कहा कि चिखली देवस्थान क्षेत्र में बालाभाऊ गृहनिर्माण संस्था ने खुली जगह व शासकीय जगह पर भूखंड डालकर बेचने की शिकायत जनसंवाद कार्यक्रम (जनता दरबार) में मिली थी। 1999 में पिछली तारीख में स्टैंप पेपर पर उसका कब्जा पत्र तैयार किया गया है। 572 ले-आउट में यह जगह है। अतिरिक्त जगह कुछ प्रमाण में है। पालकमंत्री ने उस जगह पर मनपा को वॉल कम्पाउंड डालने और शासकीय जगह से अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए। जल्द इस संबंध में एक बैठक आयोजित करने को कहा है।

खुली जगह में शराब पीने वालों से परेशानी 
मेहंदीबाग उड़ानपुल के नीचे रास्ते पर शराब पीने वालों से नागरिक परेशान हैं। उसके बगल में वाइन शॉप है तो दूसरी तरफ अंडे बिक्री करने वाले ठेले नागरिकों को परेशान करते हैं। वाइन शॉप पांचपावली थाना अंतर्गत है। ठेले वाले यशोधरा पुलिस थाना अंतर्गत जगह पर बैठते हैं। दो थानों की सीमा होने से एक तरफ कार्रवाई होने से वे दूसरी सीमा में चले जाते हैं। इस कारण कार्रवाई संभव नहीं हो पाती है। दोनों पुलिस थानों को एकत्रित कार्रवाई करना जरूरी है। 

बकरामंडी, मछली मार्केट स्थानांतरित करें
पालकमंत्री ने कहा कि गांधीबाग जोन अंतर्गत मछली मार्केट, बकरामंडी को कलमना स्थित एपीएमसी जगह पर स्थानांतरित करने में मनपा द्वारा विलंब किया जा रहा है। लंबे समय से यह प्रलंबित प्रश्न है। मच्छी मार्केट के लिए पारडी रोड पर आरक्षित जगह है। 8 एकड़ जगह है। लोगों की मांग स्थानांतरित करने की है। यह जगह नासुप्र की है। मनपा को हस्तांतरित करना आवश्यक है। अब यह जगह स्मार्ट सिटी प्रकल्प में है। बकरामंडी स्थानांतरित करने एपीएमसी का विरोध नहीं है, लेकिन बकरामंडी के साथ बूचड़खाना भी वहां करने की मांग विक्रेताओं की है। बूचड़खाने को एपीएमसी का विरोध है। पालकमंत्री ने कहा कि कलमना के पास बूचड़खाना, बकरामंडी, मछली मार्केट स्थानांतरित किया जा सकता है या नहीं? इसे लेकर फिर एक बैठक आयोजित करें।

खबरें और भी हैं...