दैनिक भास्कर हिंदी: सड़क दुर्घटना में 40 यात्री घायल, एसटी बस पुल की सुरक्षा दीवार से टकराई

October 1st, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। काटोल से तिष्टी मार्ग से बस सावनेर की ओर जा रही थी बस गड्ढे में कूदने से बस पर चालक का नियंत्रण छूट गया। अनियंत्रित बस पुल की सुरक्षा दीवार से टकरा गई। जिसमें 40 यात्री घायल हो गए। प्राप्त जानकारी के अनुसार बस क्रमांक एमएच-40, एन-8625 खैरी (नवघरे) के पास एक पुल की सुरक्षा दीवार से टकरा गई। इसमें कुल 40 यात्री घायल हो गए। बस में छोटे बच्चे, महाविद्यालयीन छात्र व वृद्ध सवार थे। घटना मंगलवार को दोपहर डेढ़ बजे घटी। सभी घायल यात्रियों को उपजिला चिकित्सालय काटोल में दाखिल किया गया। प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर रूप से घायलों को नागपुर भेजा गया। घटना की जानकारी मिलते ही  उपविभागीय पुलिस अधिकारी  नागेश जाधव, थानेदार महादेव आचरेकर, सहायक पुलिस निरीक्षक राहुल बोंद्रे ने स्थिति की समीक्षा की।

दुर्घटना में स्नेहा नरेंद्र मदनकर (19) गोंडीमोहगांव, तहसील काटोल निवासी, रामराव दशरुदेव लोणे (55) सिंजर तहसील नरखेड़ निवासी, चिंधाबाई नारायण रेंडके (60) खरांगणा जिला वर्धा निवासी, गौरव धनसिंह शिंपीकर (12), दुर्गा धनसिंह शिंपीकर (40), डॉली धनसिंह शिंपीकर (10) खरांगणा निवासी, संकेश्वर जंगलू कावडकर (18), निलेश गणपत घाटोले (20), ललित धनराज दूधकवले (18) तीनों गोंडीमोहगांव तहसील काटोल निवासी, हरिभजन दौलत कुंभरे (65) काटोल निवासी, कुसुम प्रकाश सरोदे (40), प्रकाश केशव सरोदे (45) दोनों खैरगांव तहसील नरखेड़ निवासी, महेश बलीराम वाघदरे (27) करमाकडी    तहसील सौंसर, मध्यप्रदेश निवासी, अविनाश विट्ठलराव आष्टणकर (74) जानकीनगर काटोल निवासी, रानाबाई किसनाजी कामडे (65) विसापुर तहसील सावनेर निवासी, पूजा शंकर मसराम (20) तेलगांव तहसील कलमेश्वर निवासी , चेतना बंडूजी पाटील (19) तिष्टी बुआ तहसील कलमेश्वर निवासी, निकिता नरेश्वर कचंडे (19) तिष्टी बुआ तहसील कलमेश्वर निवासी, अंजली पुंजाराम सोनवाने (18)बोरी तहसील काटोल निवासी, द्रौपदी वासुदेव भोंडे (60) वाडेगांव तहसील वरूड़ जिला अमरावती निवासी, अखिल भगवान चोरघडे (27) परसोडी तहसील कलमेश्वर निवासी, मोहित अर्जुन मडावी (5) घुबडी निवासी, जीजाबाई जंगलु मडावी (60)  घुबडी निवासी, चैतन्य विष्णु परतेती (2) घुबडी निवासी, बेबीबाई उकंडराव परतेती (60) घुबडी तहसील काटोल निवासी, यशवंत तुकाराम वाघे (47) द्वारकानगरी काटोल निवासी, महादेव गेंदलाल मोरे (65) रेलवे स्टेशन वार्ड, काटोल निवासी, मंजाबाई राजेराम हनवते (65) खैरी नवघरे तहसील काटोल निवासी, शुभांगी तुलसीराम कावडकर (18) गोंडीमोहगांव तहसील काटोल निवासी, चंद्रशेखर रमेश साठे (23) खैरी तहसील काटोल निवासी, शालिनी लीलाधर हेडाऊ (21) सावनेर निवासी, मोनाली प्रभाकर सावंतकर (21) सावनेर निवासी, पुंडलिक गोविंदराव वंजारी (70) किन्ही नेरी तहसील हिंगना निवासी, ममता मोहन गवली (20) गोंडीमोहगांव निवासी, विट्ठल सहदेव कातलाम (52) हेटीकुंडी तहसील कारंजा घाडगे निवासी, शकुंतला किसनाजी डांगोरे (60) पारडसिंगा निवासी, किसना झापरु डांगोरे (65) पारडसिंगा निवासी, जयवंती गोमाजी इवनाते (60) सबकुंड तहसील काटोल निवासी, प्रीति महेश वाघदरे  कारंजा घाडगे जिला वर्धा निवासी, प्रतीक सुधाकर हिवसे (19) तिष्टी निवासी का घायल यात्रियों में समावेश है।

लोकनिर्माण विभाग के माध्यम से सड़क सावनेर-घुबड़ात-झिलपा-सावनेर-पारशिवनी रोड का सीडी वर्क के तहत 34 किमी का काम चल रहा है। इस काम के लिए 60 करोड़ रुपए की लागत से काम शुरू है। यह काम पाटणसावंगी रोडवेज प्राइवेट लिमिटेड द्वारा किया जा रहा है। हालांकि, इस सड़क पर काम करते समय, काम में उपयोग की जाने वाली मुरुम के बजाय लाल मिट्टी का उपयोग किया गया है। इसके कारण दुर्घटना की संख्या, मिट्टी में गाड़ी फंसना और फिसलने वाले वाहनों में वृद्धि हुई है। घटना की जानकारी मिलते ही  पूर्व मंत्री अनिल देशमुख, पूर्व उपाध्यक्ष समीर उमप, पूर्व पंस उपसभापति अनूप खराडे, राजू ठाकुर, भूषण सावरकर, नप उपाध्यक्ष जितेंद्र तुपकर, नप सभापति किशोर गाढवे, नगरसेवक तानाजी थोटे, निलेश धोटे, बालू नासरे, रुपेश नाखले, नबीरा महाविद्यालय के कार्यकारी प्राचार्य गुणवंत खोरगडे, राजू धुर्वे  व सामाजिक कार्यकर्ताओं ने ग्रामीण चिकित्सालय जाकर जरूरतमंदों की मदद की। ग्रामीण चिकित्सालय के  वैद्यकीय अधिकारी डा. डोमके, डा. नांदगावकर व संपूर्ण कर्मचारियों ने बिला किसी विलंब के इलाज किया। काटोल निजी अस्पतल के  डा. चिंचे, डा. घाटे, डा. कालवीट, डा. कारांगले ने  घटना की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए ग्रामीण चिकित्सालय में सेवा दी।