दैनिक भास्कर हिंदी: मुंबई से पटना जा रही जनता एक्सप्रेस में बैठकर सतना पहुंचे 85 वेंडर -अवैध यात्रा पर नहीं किसी का जोर     

March 27th, 2020

 डिजिटल डेस्क सतना। कोरोनो वायरस के संक्रमण की महामारी के चलते जहां पूरे देश में रेल सेवा 14 अप्रैल तक के लिए बंद कर दी गई है, वहीं अपने प्रारंभिक स्टेशनों के लिए भेजी जा रही खाली यात्री गाडिय़ों में रेल कर्मियों की अवैध यात्रा पर  किसी का जोर नहीं है। ये अवैध यात्री तेजी के साथ फैलते संक्रमण के बीच खतरे की बड़ी घंटी हैं। गुरुवार को शाम तकरीबन 5 बजे यहां स्टेशन में उस वक्त हड़कंप मच गया जब मुंबई से चलकर पटना की ओर जा रही जनता एक्सप्रेस की खाली रैक के अलग-अलग कोच में सवार लगभग 500 यात्रियों में से 85 यात्री अचानक  स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर 2 पर एक साथ उतर पड़े। एक साथ इतनी भीड़ को देखते ही पहले ही अलर्ट आरपीएफ के पोस्ट प्रभारी मानसिंह के नेतृत्व में रेल पुलिस के  
 जवानों ने इन सभी को कवर कर लिया। पूछताछ में अवैध रुप से यात्रा कर रहे इन यात्रियों ने आरपीएफ को बताया कि वो लोग रेलवे के ही अनुबंधित कर्मचारी हैं और सतना-रीवा तथा सीधी के जिलों के रहने वाले हैं। इनमें से ज्यादातर आईआरसीटीसी से संबद्ध वेंडर और अटेंडेंट थे। 
मेडिकल चेकअप के बाद भेजे गए बस से :---- 
मामला संज्ञान में आने पर एसडीएम पीएस त्रिपाठी और तहसीलदार मानवेन्द्र सिंह अपने साथ मेडिकल टीम लेकर  स्टेशन पहुंचे। एक -एक यात्री का पहले थर्मल स्क्रीनिंग की गई और सभी के लिए भोजन की भी व्यवस्था की गई। इन सभी को 14 अप्रैल तक घर पर ही रहने की हिदायत भी दी गई है। बाद में जिला प्रशासन की मदद से बसों का प्रबंध किया और सभी को गंतव्य के लिए रवाना किया गया। 
 

खबरें और भी हैं...