दैनिक भास्कर हिंदी: करंट की चपेट में आने से एक की मौत, तीन झुलसे- किसान खिंचवा रहा था अवैध विद्युत लाइन

June 14th, 2018

डिजिटल डेस्क, छिन्दवाड़ा/चौरई। खेत में 24 घंटे बिजली सप्लाई के लिए घरेलू विद्युत लाइन से डायरेक्ट कनेक्शन करवाना धमनिया के किसान को महंगा पड़ गया। कनेक्शन के लिए खींची जा रही विद्युत लाइन ऊपर से गुजर रही हाइटेंशन लाइन से टकरा गई। हादसे में एक मजदूर की मौके पर मौत हो गई। वहीं तीन मजदूर गंभीर रुप से झुलस गए।

बताया जा रहा है कि धमनिया के किसान विनोद पटेल अपने खेत में 24 घंटे मोटर चलाने के लिए घरेलू फीडर से अवैध कनेक्शन ले रहा था। सोमवार देर शाम विनोद पटेल और MPEB का काम कर रहे नरेंद्र बघेल ठेकेदार के चार कर्मचारी गांव के अंदर मौजूद घरेलू फीडर से लाइन बिछाते हुए खेत तक ले जा रहे थे। इस दौरान रात के अंधेरे में विद्युत तार ऊपर से जा रही MPEB की लाइन से टकरा गया। करंट की चपेट में आने से छब्बी पिता रमेश यादव की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं संजू उर्फ गजानंद, रतन यादव, दिनेश यादव करंट में झुलस गए। देर रात सभी को चौरई अस्पताल लाया गया। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है।

हादसे को सड़क हादसा बताता रहा किसान
हादसे के बाद छब्बीलाल को अचेत अवस्था में चौरई अस्पताल लेकर पहुंचे विनोद पटेल ने बाइक से दुर्घटना होना बताया। ड्यूटी पर मौजूद ASI बलवंत बघेल ने पूछताछ की तो किसान पलट गया। देर रात मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच की तो मामला खुलकर सामने आया। लोगों ने बताया कि चोरी से कनेक्शन लेकर मोटर चलाने का प्रयास किया जा रहा था।

उमरेठ में भी एक मजदूर की मौत
उमरेठ के ग्राम नागलवाड़ी में MPEB के ठेका कर्मचारी की करंट की चपेट में आने से मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि जुन्नारदेव के उपली निवासी 42 वर्षीय ईश्वरदास पिता दशरथ आम्रवंशी बुधवार दोपहर नागलवाड़ी में 11 केवी लाइन में जम्पर बदल रहा था। इस दौरान करंट रिर्टन आने से वह बुरी तरह से झुलस गया। करंट की चपेट में आने से ईश्वरदास आम्रवंशी की मौके पर मौत हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है।