दैनिक भास्कर हिंदी: नक्सली कमांडर बेटे की पिता ने निकाली अंतिम यात्रा, प्रतीकात्मक पुतले को दी मुखाग्नि

July 28th, 2018

डिजिटल डेस्क, एटापल्ली(गड़चिरोली)। जिले में नक्सली सप्ताह के दौरान नक्सलियों की दहशत कम करने के लिए पुलिस विभाग की ओर से शुक्रवार को नक्सल विरोधी मोर्चा निकाला गया। इस मोर्चे में नक्सली कमांडर महेश उर्फ शिवाजी गोटा के पिता रावजी गोटा ने पुत्र की अंतिम यात्रा निकाली। मुख्य चौक पर बेटे के प्रतीकात्मक पुतले को उन्होंने मुखाग्नि दी। साथ ही पुत्र से समर्पण करने की गुहार लगाई। इस मोर्चे में आदिवासी बड़ी संख्या में उपस्थित थे। बता दें कि, नक्सली संगठनों का शनिवार से नक्सली सप्ताह शुरू हुआ है। अपने इस सप्ताह के दौरान नक्सली ग्रामीणों में दहशत निर्माण करने का प्रयास करते हैं।

 



नक्सल विरोधी मोर्चा निकाला
नक्सलियों की दहशत को कम करने के लिए पुलिस विभाग की ओर से शहर में नक्सल विरोधी मोर्चा निकाला गया। मूलत:  तहसील के रेगड़ीगट्टा निवासी रावजी गोटा का पुत्र महेश उर्फ शिवाजी रावजी गोटा दलम कमांडर होकर अनेक वर्षों से नक्सली संगठनों से जुड़ा हुआ है। पुत्र के नक्सली बनने से संतप्त पिता ने मोर्चे में बेटे के प्रतीकात्मक पुतले की अंतिम यात्रा निकाली। यह मोर्चा शहर के मुख्य मार्ग से होते हुए शिवाजी चौक पर पहुंचा। वहां नक्सली कमांडर महेश गोटा समेत नक्सल डिविजन कमांडर जोगन्ना उर्फ घिसू उर्फ चिमला उर्फ नरसया लिंगया के प्रतीकात्मक पुतले को जलाया गया।

मोर्चे में एटापल्ली के उपविभागीय पुलिस अधिकारी किरणकुमार सूर्यवंशी, सहायक पुलिस निरीक्षक सचिन जगताप, पुलिस उपनिरीक्षक महेश पाटील, अमित पाटील, संजय राठौड़, अरुण डोबे, नवाज शेख आदि प्रमुखता से उपस्थित थे। 

जवानों का नक्सल विरोधी अभियान आरंभ 
नक्सली सप्ताह में कोई अनहोनी न हो, इसलिए पुलिस ने चौकसी बढ़ा दी है। सी-60 समेत सीआरपीएफ के दलों को नक्सल खोज मुहिम पर रवाना कर दिया गया है। अनेक स्थानों पर पुलिस द्वारा नाकाबंदी कर हर छोटी-बड़ी गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। सिरोंचा से आष्टी तक मुख्य मार्ग पर पुलिस ने विभिन्न स्थानों पर जांच नाके बनाकर लोगों से पूछताछ आरंभ कर दी है। बता दें कि, नक्सल संगठन के नेता चारू मुरुमदार समेत अन्य मारे गए  नक्सली साथियों की याद में प्रतिवर्ष नक्सल सप्ताह मनाया जाता है।