मिजोरम से आए थे, सभी होम आइसोलेशन में: महीने भर बाद शहडोल जिले में फिर मिले तीन कोरोना संक्रमित

October 21st, 2021

डिजिटल डेस्क शहडोल । त्योहार के सीजन में जिले के लिए यह चिंता की बात हो सकती है कि कोरोना फिर पैर पसारने लगा है। एक महीने बाद कोरोना के फिर तीन नए मरीज पाए गए हैं। संक्रमित तीनों मरीजों की ट्रेवल हिस्ट्री सामने आई है। तीनों संक्रमित मरीज बुढ़ार स्थित होटल विलासा के कर्मचारी हैं। इनमें से दो महिला कर्मचारी मिजोरम के तथा एक पुरुष कर्मचारी सिंहपुर क्षेत्र के निवासी बताया गया है। गौरतलब है कि 28 सितंबर को तीन संक्रमित मरीज मिले थे, जो अब स्वस्थ हो चुके हैं। जानकारी के अनुसार होटल में कार्य करने के लिए 14 अक्टूबर को मिजोरम से 9 लोग यहां आए थे। होटल मैनेजमेंट द्वारा कार्य पर रखने के पूर्व सभी को क्वारेंटाइन में रखकर सेंपल जांच कराए गए। इनमें से दो लड़कियां पॉजिटिव पाई गईं। जिन्हें होम आइसोलेनशन में रखा गया है। वहीं सर्दी-जुखाम की शिकायत पर एक अन्य कर्मचारी का सेंपल जांचा गया, जो पॉजिटिव पाया गया। यह कुछ दिनों पूर्व मैहर से लौटा था। इसे भी होम आइसोलेशन में रखा गया है। वहीं अहतियातन होटल के सभी कर्मचारियों के सेंपल जांच कराए गए जो सभी निगेटिव आए हैं।
लग चुकी है वैक्सीन की डोज
कोरोना संक्रमितों के बारे में जानकारी दो दिन बाद सावर्जनिक हो पाई। बताया गया है कि 18 अक्टूबर की शाम को ही रिपोर्ट आ चुकी थी, लेकिन उसे जारी नहीं की गई। हालांकि स्वास्थ्य विभाग के अनुसार पॉजिटिव मिले मरीजों की हालत चिंताजनक नहीं है। सभी की हालत स्थिर है। बुढ़ार बीएमओ डॉ. सचिन कारखुर के अनुसार मिजोरम से आई दोनों लड़कियों को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है, जबकि सिंहपुर क्षेत्र के कर्मचारी को दोनों डोज लग चुकी हैं। इसलिए सभी की हालत ठीक है। कुछ लक्षण जरूर थे, जिन्हें आइसोलेशन में रखा गया है। सिहंपुर बीएमओ से संपर्क कर इसके घर वालों की जांच कराने को कहा गया है।
अब भी सचेत रहने की जरूरत
जिले में वर्तमान में एक्टिव मरीजों की संख्या तीन है, लेकिन अब भी सतर्क रहने की जरूरत है। जिले में अब तक 10136 लोग पॉजिटिव हो चुके हैं, इनमें से 9964 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। शासकीय आंकड़ों के अनुसार 169 लोगों ने कोरोना से जान गंवाई है। कोरोना के केस सामने आने के बाद भी लोगों की लापरवाही नहीं थम रही है। सड़कों पर अधिकांश पब्लिक बिना मास्क के ही घूमती नजर आती है। बैंक, बाजार, सब्जी मंडी सहित किसी भी सार्वजनिक स्थान पर सोशल डिस्टेंसिंग नहीं दिखती। यह लापरवाही कहीं भारी न पड़ जाए। आने वाले दिनों में दीवाली जैसा त्यौहार है। ऐसे में सार्वजनिक स्थानों पर और ज्यादा भीड़भाड़ रहेगी। ऐसे में जरा सी लापरवाही भारी पड़ सकती है।

खबरें और भी हैं...