comScore

आशा गट प्रवर्तक और अटेंडेंट को मिलेगी प्रोत्साहन राशि, ग्रामीण विकास मंत्री का फैसला

आशा गट प्रवर्तक और अटेंडेंट को मिलेगी प्रोत्साहन राशि, ग्रामीण विकास मंत्री का फैसला

डिजिटल डेस्क, मुंबई। कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए राज्य के गावों में काम करने वाली स्वास्थ्य विभाग की आशा वर्कर समन्वयक और अटेंडेंट को एक-एक हजार रुपए बतौर प्रोत्साहन राशि देने का फैसला लिया गया है। गुरुवार को प्रदेश के ग्रामीण विकास मंत्री हसन मुश्रीफ ने यह जानकारी दी। मुश्रीफ ने कहा कि राज्य के लगभग 13 हजार 500 आशा वर्कर समन्वयक और अटेंडेंट को इस प्रोत्साहन राशि का लाभ मिल सकेगा। जिला परिषदों को जून में ही कर्मचारियों को राशि वितरित करने के निर्देश दिए गए हैं। मुश्रीफ ने कहा कि राज्य के गावों में काम करने वाले कमर्चारियों को एक-एक हजार रुपए का प्रोत्साहन राशि देने का फैसला पहले लिया गया था। इसके मद्देनजर अब आशा वर्कर समन्वयक और अटेंडेंट को हजार-हजार रुपए देने का फैसला लिया गया है। 

मुश्रीफ ने बताया कि राज्य में कोरोना से लड़ने के लिए काम करने वाली अब तक 2 लाख 74 हजार आंगनवाडी सेविकाओं, आंगनवाडी सहायिकाओं, आशा वर्कर और ग्राम पंचायत कर्मचारियों को एक हजार रुपए की प्रोत्साहन राशि दी जा चुकी है। मुश्रीफ ने कहा कि ग्राम पंचायतों के कर्मचारियों को कर वसूली की शर्त को रद्द करते हुए पूरा वेतन देने का फैसला पहले ही लिया जा चुका है। इससे ग्राम पंचायत के कर्मचारियों को साल 2020-2021 में पूरा वेतन मिलने का रास्ता साफ हो गया है।

कमेंट करें
DA7vq