• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Bhavna Dehria of Chhindwara played Holi by hoisting the tricolor on the top of Mount Kojiasco, Australia

दैनिक भास्कर हिंदी: छिंदवाड़ा की भावना डेहरिया ने ऑस्ट्रेलिया के माउंट कोजिअस्को की चोटी पर तिरंगा फहराकर  खेली होली

March 13th, 2020

डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा । जिले के तामिया की रहने वाली एवेरेस्टर भावना डेहरिया ने अफ्रीका महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी किलिमंजारो पर दीपावली के दिन फतह हासिल कर भारत का तिरंगा लहराया था और यहीं दीवाली भी मनाई थी। अब भावना ने रंगों का त्योहार होली ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी माउंट कोजिअस्को पर मनाया। यहां उन्होंने तिरंगा फहराने के साथ ही रंग-गुलाल से होली भी खेली।भारतीय संस्कृति की खूबसूरती को चरम पर पहुंचाते हुए भावना ने रंग खेला और भारतीय संस्कृति को बढ़ावा दिया। अपनी इस यात्रा के बारे में भावना ने कहा, मैं बहुत भाग्यशाली और खुद पर गर्व महसूस कर रही हूं कि मैंने भारत के दो सबसे बड़े त्योहार पर्वतों की चोटियों पर मनाए। उन्होंने बताया कि इससे पहले वे 27 नवंबर 2019 को दिवाली के मौके पर अफ्रीका महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी किलिमंजारो की समिट पूरी की थी। इस बार भी उन्होंने होली के मौके पर ऑस्ट्रेलिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट कोजिअस्को समिट पूरी की। मैं ऐसा कह सकती हूं कि ये समिट मेरे लिए बहुत ही यादगार रही।इस समिट को मध्य प्रदेश पर्यटन बोर्ड एमपीटीबी द्वारा सपोर्ट किया गया था और इसके लिए भावना ने बोर्ड का आभार व्यक्त किया है।भावना 6 मार्च को ऑस्ट्रेलिया पहुंची थी और उन्होंने  माउंट कोजिअस्को की चढ़ाई शुरू की थी। भावना ने होली के दिन 10 मार्च को समिट को पूरा किया। उन्होंने तिरंगा फहराने के साथ ही मध्य प्रदेश टूरिज्म और एडवेंचर स्पोट्र्स को बढ़ावा देते हुए शिखर पर बैनर भी प्रदर्शित किया। वे वहां भारतीय राजदूत से भी मिली। भावना 12 मार्च बुधवार को भोपाल लौट आएंगी। भावना 22 मई 2019 को माउंट एवरेस्ट पर चढऩे वाली मध्य प्रदेश की पहली महिलाओं में से एक हैं। 31 दिसंबर 2019 को दक्षिण अमेरिका के माउंट अकोंकागुआ की चढ़ाई समिट से 6500 मीटर की ऊंचाई से मौसम खराब होने के कारण उन्हें वापस आना पड़ा था जो अब अगले साल पूरा करेंगी। इसकी ऊंचाई 6962 मीटर है। अगस्त 2018 में 6593 मीटर चढ़ाई चढकऱ माउंट मनिरंग हिमाचल प्रदेश समिट किया था। वहीं 2017 में माउंट डीकेडी-2 (5670 मीटर) घड़वाल समिट पूरी की थी।

खबरें और भी हैं...