सत्ता परिवर्तन: सरकार बदलते ही मुंबई बैंक पर भाजपा विधायक दरेकर का कब्जा 

August 5th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रदेश में सत्ता बदलने के बाद अब मुंबई जिला मध्यवर्ती सहकारी बैंक (मुंबई बैंक) में भी सत्ता परिवर्तन हुआ है। मुंबई बैंक के अध्यक्ष पद पर भाजपा विधायक प्रवीण दरेकर का निर्विरोध चयन हुआ है। जबकि बैंक के उपाध्यक्ष पद पर राकांपा के सिद्धार्थ कांबले निर्विरोध चुने गए हैं।  इसके पहले महाविकास आघाड़ी सरकार के समय 13 जनवरी 2022 को मुंबई बैंक पर शिवसेना की मदद से राकांपा ने कब्जा कर लिया था। उस समय राकांपा के सिद्धार्थ कांबले मुंबई बैंक के अध्यक्ष बने थे। कांबले ने भाजपा विधायक प्रसाद लाड को पराजित किया था। जबकि उपाध्यक्ष पद पर भाजपा के विट्ठल भोसले ने शिवसेना प्रत्याशी अभिषेक घोसालकर को हरा दिया था। पर राज्य में सत्ता परिवर्तन के बाद कांबले ने बीते सप्ताह मुंबई बैंक के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद अब मुंबई बैंक के अध्यक्ष पद पर भाजपा के दरेकर ने कब्जा किया है। मुंबई बैंक का चुनाव निर्विरोध कराने में विधानसभा में विपक्ष के नेता अजित पवार की अहम भूमिका मानी जा रही है। दरेकर ने इसको स्वीकार भी किया है। उन्होंने कहा कि राजनीति में दलगत राजनीति से ऊपर दोस्ती होती है। यह सच है कि अजित पवार से मेरा रिश्ता मैत्रीपूर्ण है। पूर्व की महाविकास आघाड़ी सरकार में दरेकर विधान परिषद में विपक्ष के नेता थे। नई सरकार बनने के बाद दरेकर का नाम संभावित मंत्रियों की सूची में है। अब मुंबई बैंक का अध्यक्ष बनने के बाद उनके मंत्री बनने को लेकर अलग-अलग कयास लगाए जा रहे हैं। इसके पहले दरेकर ने मुंबई बैंक के निदेशक पद का चुनाव दो सीटों से लड़ा था। जिसके बाद दरेकर के मजदूर न होने के बावजूद श्रमिक कोटे की सीट से चुनाव लड़ने को लेकर बीते मार्च महीने में मामला भी दर्ज हुआ था।