comScore

बिजली बिल को लेकर चौराहे पर प्रदर्शन करेगी भाजपा, सरकार का विरोध

बिजली बिल को लेकर चौराहे पर प्रदर्शन करेगी भाजपा, सरकार का विरोध

डिजिटल डेस्क, नागपुर। बिजली बिल को लेकर शहर भाजपा ने राज्य सरकार के विरोध में प्रदर्शन की तैयारी कर ली है। सोमवार को शहर के प्रमुख चौराहों पर नारेबाजी की जाएगी। पार्टी के शहर अध्यक्ष प्रवीण दटके के अनुसार बार बार मांग करने के बाद भी राज्य सरकार राहत देने का निर्णय नहीं ले रही है। लिहाजा शहर में सभी 6 मंडलों में प्रदर्शन के माध्यम से सरकार का विरोध किया जाएगा। सरकार के विरोध में नारेबाजी की जाएगी। दटके ने पत्रकार वार्ता लेकर पहले ही आंदोलन की चेतावनी दी थी। शुक्रवार को भाजपा के विधायकों ने मुख्य अभियंता दोडके से मुलाकात कर उन्हें निवेदन सौंपा था। वर्तमान बिजली बिल रद्द कर 300 यूनिट तक बिल माफ करने, नए बिल नियमित भेजने, अधिभार रद्द करने के अलावा बिजली शुल्क कम करने की मांग की गई थी। ऊर्जा मंत्री इन मांगों को लेकर टाल मटोल कर रहा है। शहर के विधानसभा क्षेत्र स्तर पर चौराहों पर सुबह 10 बजे से दोपहर1 बजे तक आंदोलन होगा। 

ऐसे होगा आंदोलन

दक्षिण पश्चिम विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस नगर चौक पर प्रदेश महामंत्री रामदास आंबटकर, महापौर संदीप जोशी, मंडल अध्यक्ष किशोर वानखेडे , उत्तर मंडल के आटोमोटिव चौर पर विधानपरिषद सदस्य गिरीश व्यास, पूर्व विधायक मिलिंद माने, मंडल अध्यक्ष संजय चौधरी, पूर्व नागपुर के छापरुनगर चौक में राज्यसभा सदस्य विकास महात्मे, विधायक कृष्णा खोपडे, मंडल अध्यक्ष संजय अवचट, मध्य मंडल के तुलसीबाग चौक में शहर अध्यक्ष प्रवीण दटके, विधायक विकास कुंभारे, मंडल अध्यक्ष किशोर पलांदूरकर, पश्चिम मे काटोल मार्ग पर विधानपरिषद सदस्य अनिल सोले, पूर्व विधायक सुधाकर देशमुख, मंडल अध्यक्ष विनोद कन्हेरे,दक्षिण मंडल में विधायक मोहन मते, नागो गाणार, पूर्व विधायक सुधाकर कोहले,मंडल अध्यक्ष देवेन्द्र दस्तुरे के नेतृत्व में आंदोलन होगा। 

बिल माफ नहीं होने पर पालकमंत्री के घर के सामने ठिया आंदोलन

इससे पहले विदर्भ राज्य आंदोलन समिति (विराआंस) ने कोरोना काल के दौरान भेजे गए बिजली बिल माफ करने की मांग की। ऐसा नहीं होने पर पालकमंत्री डा. नितीन राऊत के घर के सामने ठिया आंदोलन किए जाने की चेतावनी भी दी गई। विराआंस के संयोजक राम नेवले के नेतृत्व में मानेवाड़ा रोड अंबिका नगर में बिजली बिल की प्रति जलाकर आंदोलन किया गया। नेवले ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान लोगों के काम-धंधे बंद हो गए। ऐसे में अनाप-शनाप बिजली बिल का भुगतान करना लोगों के लिए मुश्किल है। इस दौरान विराआंस के मुकेश मासुरकर, प्रीति दीड़मुठे, रेखा निमजे, नितीन अवस्थी, शुभम पौनीकर, प्रवीण दीड़मुठे, शोभा येवले आदि उपस्थित थे।
 

कमेंट करें
8jZgC