दैनिक भास्कर हिंदी: राजा पहाड़ी की झिरिया में उतराते मिले लापता जुड़वा भाइयों के शव, क्षेत्र में सनसनी

June 15th, 2020


डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा। तीन दिनों से अपनी बड़ी मां के यहां से गायब हुए जुड़वां बच्चों के शव सोमवार की शाम सोनपुर के करीब स्थित राजापहाड़ के करीब एक खेत के कुएं में उतराते मिले हैं। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस दल ने मौके पर पहुंच कर मामले की जांच शुरू की है। प्राथमिक जांच में पुलिस बच्चों की मौत सामान्यत: कुएं के पानी में डूबने के कारण होना बता रही है। रामबाग कैलाश नगर निवासी सतीश सूर्यवंशी के 13 साल के जुड़वां बेटे अमित और सुमित 12 जून से गायब थे। रविवार को उनकी गुमशुदगी की शिकायत कुंडीपुरा थाने में दर्ज की गई। सोमवार की शाम पुलिस को सूचना मिली कि सोनपुर के राजापहाड़ के पास ही एक खेत के कुएं में दो बच्चों के शव पड़े हुए हैं। सूचना पर सीएसपी अशोक तिवारी ने कुंडीपुरा पुलिस के साथ मौके पर पहुंच कर बच्चों की शिनाख्त कराई है। दोनों शव अमित व सुमित के होने की पुष्टि परिजनों ने की है। पुलिस ने शव बरामद कर जांच शुरू कर दी है। दोनों शवों का पोस्टमार्टम मंगलवार को कराए जाएंगे।
12 जून से थे गायब, पहाड़ के ऊपर किसी ने नही की तलाश-
रामबाग कैलाश नगर निवासी दोनों जुड़वां भाई 11 जून को अपनी बड़ी मां के साथ उनके गांव सारसवाड़ा गए थे। 12 जून की दोपहर तक बच्चे सारसवाड़ा में घर में ही खेल रहे थे। उसके बाद से बच्चे गायब थे। बच्चे शाम तक नही मिले तो परिजनों ने उनकी तलाश की और रविवार को गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई। लेकिन बच्चों की तलाश किसी ने भी पहाड़ी के ऊपर नही की जबकि घटना स्थल बच्चों के घर से महज एक किमी की दूरी पर है। सोमवार को खेत जाने वालों ने शव देखकर पुलिस को सूचना दी है।
चोट के कोई निशान नही, कपड़े कुएं के बाहर मिले-
सीएसपी अशोक तिवारी के अनुसार बच्चों के शव पर चोट के कोई निशान नही हैं और उनकी मौत पानी में डूबने के कारण होने का खुलासा हो रहा है। दोनों बच्चों के कपड़े कुएं के बाहर ही पड़े मिले हैं। आशंका जताई जा रही है कि बच्चों ने नहाने के लिए कपड़े बाहर उतारे और बिना कपड़ों के कुएं में कूदे हैं। दोनों शव बिना कपड़ों के बरामद किए गए हैं।
तीन बहनों के बाद हुए थे दो जुड़वा बच्चे, परिवार में छाया मातम
रामबाग कैलाश नगर निवासी सतीश सूर्यवंशी होटल में बावर्ची का काम करता है। उसके दोनों बच्चे जुड़वा थे और सबसे छोटे थे। दोनों जुड़वा बच्चे तीन बहनों के बाद जन्मे थे और पूरे परिवार के लाड़ले थे। बच्चों के लापता होने के बाद से परिवार परेशान था। अब उनकी मौत की खबर सुनने के बाद पूरे परिवार में मातम छा गया है और परिजनों की स्थिति खराब हो रही है।
इनका कहना है-
लापता बच्चों के शव एक पहाड़ी पर स्थित खेत के कुएं में मिले हैं। प्राथमिक जांच में बच्चों की मौत पानी में डूबने से होने का अनुमान है पोस्टमार्टम के बाद सही जानकारी मिल सकेगी।
-अशोक तिवारी, सीएसपी छिंदवाड़ा।

खबरें और भी हैं...