दैनिक भास्कर हिंदी: बीएसएनएल को काम के लिए पार्टनर की जरूरत , ग्रामीण क्षेत्र के लिए तलाश जारी

August 17th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। भारत संचार निगम लfमिटेड (बीएसएनएल) नागपुर को ग्रामीण क्षेत्र में काम के लिए पार्टनर ढूंढ रही है। काम के आधार पर इन पार्टनरों को कमीशन भी दिया जाएगा। बीएसएनएल का दावा है कि ग्रामीण व देहातों में उपभोक्ताओं को अच्छी सेवा मिलने के साथ ही बेरोजगार युवाओं को भी रोजगार मिल जाएगा।   बीएसएनएल नागपुर के जिले में करीब 85 हजार ब्राडबैंड व लैंडलाइन उपभोक्ता है। इसमें से लगभग 25 हजार उपभोक्ता ग्रामीण क्षेत्र के है। बीएसएनएल ने बेरोजगार युवाओं व विभाग से सेवानिवृत्त हुए पूर्व कर्मचारियों के लिए एक योजना लाई है। इसे राजस्व भागीदारी के आधार पर पार्टनर बनने के अवसर यह नाम दिया गया है। विभाग का दावा है कि इससे बेरोजगारों को काम मिलने के साथ ही राजस्व प्राप्ति का अवसर भी मिलेगा। ग्रामीण क्षेत्र से इसकी शुरुआत होगी और यहां की सफलता के बाद इसे शहर में लागू करने पर विचार हो सकता है। 

ये काम करना होगा 

बताया जाता है कि  राजस्व भागीदारी के आधार पर बने पार्टनरों को नए कनेक्शन लगाने के अलावा सीम भी बेचने होंगे। लैंडलाइन व ब्राडबैंड कनेक्शन उपभोक्ताओं को देने होंगे। इसीतरह ग्रामीण के उपभोक्ताओं को  दुरुस्ती संबंधी सेवा भी देनी होगी। यानी कनेक्शन व सीम बेचने के साथ ही मेंटेनंस भी इन्हें ही करना होगा। ग्रामीण के टेलीफोन एक्सचेंजों से इनका काम जुड़ा रहेगा। उपभोक्ताओं की शिकायतों का निपटारा भी इन्हें ही करना होगा। 
 
ग्रामीण के लिए है यह योजना 

विभाग ने बीएसएनएल के कनेक्शन लगाने व सीम बेचने के लिए राजस्व भागीदारी के आधार पर पार्टनर चुनने की योजना लाई है। फिलहाल नागपुर ग्रामीण के लिए यह योजना है। उपभोक्ताओं को सेवा देने के साथ ही मेंटेनंस का काम भी इन्हें ही देखना होगा। विभाग की तरफ से इन्हें राजस्व (कमीशन) दिया जाएगा। विभाग व्यावसायिक अवसर दे रहा है। जिसका लाभ लेकर आर्थिक स्थिति सुधारी जा सकती है।   -समीर खरे, जनसंपर्क अधिकारी बीएसएनएल नागपुर