comScore

दिनदहाडे व्यवसायी की चाकू घोंपकर हत्या, पार्किंग को लेकर हुआ था विवाद

दिनदहाडे व्यवसायी की चाकू घोंपकर हत्या, पार्किंग को लेकर हुआ था विवाद

डिजिटल डेस्क, नागपुर। इमारत में वाहन पार्किंग की जगह को लेकर हुए विवाद में एक बदमाश ने व्यवसायी की चाकू घोंपकर हत्या कर दी। मृतक का नाम हरिभाऊ उर्फ हरिदास रामकृष्ण सावरकर है। घटना मंगलवार को दिनदहाडे करीब 3.30 बजे सक्करदरा के भांडे प्लाट चौक परिसर में हुई। पुलिस को जानकारी मिली है कि आरोपी का नाम बंटी शेख भांडे प्लॉट, झोपडपट्टी निवासी है। घटना के समय उसके पिता नूर शेख और उसके कुछ मित्र भी साथ में थे। इसके पहले इस जगह को लेकर विवाद चलते आ रहा है। कुछ दिन पहले एक अस्पताल के संचालक पर नूर शेख ने हमला किया था। शहर में लॉकडाउन शुरू है। जगह- जगह पुलिस का बंदोबस्त भी लगा है। इसके बाद दिनदहाडे हत्या की वारदात होने परक्षेत्र की पुलिस की कार्यशैली को लेकर कई तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं।  

पुलिस सूत्रों के अनुसार भांडेप्लॉट चौक में लक्ष्मी कॉम्प्लेक्स है। इस इमारत की वाहन पार्किंग की जगह को लेकर काफी दिनों से विवाद चल रहा है। इस इमारत की पार्किंग की जगह को बंटी को अवैध तरीके से बेच दी गई थी। उस जगह पर बंटी ने अवैध निर्माण कार्य भी किया था। इमारत में पार्किंग की जगह पर अवैध निर्माण कार्य का वहां के  दुकानदारों का विरोध था। उन्होंने इस बारे में महापालिका के पास शिकायत की। उसके बाद मनपा के तोडूदस्ते ने इस अवैध निर्माणकार्य को तोड दिया था। इसके लिए बंटी ने वहां पर वंजारी अस्पताल के संचालक व बगल में बैग व सीट कवर का व्यवसाय करने वाले हरिभाऊ को जिम्मेदार मान रहा था। इस बात को लेकर वह काफी गुस्से में था।

कुछ दिनों पहले बंटी के पिता नूर शेख ने वंजारी अस्पताल के डॉक्टर पर तलवार से हमला किया था। उस समय अस्पताल का दरवाजा बंद कर लेने से संचालक बच गए थे। उसके बाद से आज मंगलवार को दोपहर में बंटी शेख चाकू लेकर अपने मित्रों व पिता के साथ इमारत परिसर में गया। आरोपियों ने हरिभाऊ से विवाद किया। उसके बाद उन पर चाकू से हमला कर उनकी हत्या कर दी गई। उसके बाद सभी आरोपी घटनास्थल से फरार हो गया। इधर हरिभाऊ को अस्पताल ले जाने पर प्राथमिक जांच के दौरान ही डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। घटना की जानकारी मिलने पर सक्करदरा पुलिस ने हत्या का प्रकरण दर्ज कर लिया है। पुलिस  मामले की जांच कर रही है।

6 वार किए जाने की खबर

सूत्रों ने बताया कि दुकान के विवाद को लेकर आरोपी बंटी ने हरिभाऊ को अपने घर के पास बुलाया और पिता व अन्य 3 साथियों  के साथ मिलकर उन पर हमला किया। आरोपी ने तलवार से हरिभाऊ के शरीर पर 6 बार वार किया। आरोपी व मृतक का घर कुछ ही दूरी पर है। घटना की जानकारी मिलते ही हरिभाऊ का बेटा घटनास्थल पहुंचा और खून से लथपथ पिता को गाड़ी पर अस्पताल ले गया। जहां उनकी मौत हो गई। परिवार के सदस्य गजानन सावरकर ने बताया कि हरिभाऊ को आरोपी बेवजह पुराने विवाद को लेकर मृतक को परेशान करता था। बार-बार परेशान किये जाने पर स्थानीय थाने में इसकी शिकायत की गई, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई। पिछले कुछ दिनों से हर दिन आरोपी हरिभाऊ और परिवार को देख लेने की धमकी देता था। मृतक के परिवार ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि अधिकारी आरोपी को बचाने का काम कर रहे हैं। पुलिस पर ढिलाई बरतने का आरोप भी मृतक के परिजनों ने लगाया है। 

 

कमेंट करें
Ha489