comScore

केबल कनेक्शन कटने से सटीक सूचना और मनोरंजन पर लगी रोक, परेशान हो रहे दर्शक

केबल कनेक्शन कटने से सटीक सूचना और मनोरंजन पर लगी रोक, परेशान हो रहे दर्शक

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कोरोना के कारण चल रहे लॉकडाउन के दौरान घरों में रह रहे लोगों के मनोरंजन के एकमात्र साधन टीवी प्रसारण पर खतरा मंडराने लगा है। शहर के कई क्षेत्रों से केबल कटने और टीवी प्रसारण ठप होने की सूचना आ रही है। जबकि हाल उपजिलाधिकारी रवींद्र खंजाची ने शहर के सभी केबल आपरेटर्स को भुगतान नहीं होने पर कनेक्शन नहीं काटने की अपील जारी की गई थी। उधर केबल आॅपरेर्ट्स की दलील है कि अधिकतर ग्राहक अब प्रीपेड सेवा से जुड़े हैं। ऐसे में अगर माह खत्म होने पर रीफिल नहीं करवाया गया, तो सेवा स्वयं खंडित हो जाती है।

ऑनलाइन कर सकते हैं रिचार्ज

केबल एसोसिएशन के अध्यक्ष सुभाष बांते ने बताया कि फिलहाल जारी सिस्टम में केबल सेवा के शुल्क का केवल 25 फीसदी केबल ऑपरेटर्स का होता है। बाकी रकम एमएसओ को और उसके द्वारा चैनल को जाता है। मेरे पास अगर दौ सौ ग्राहक हैं तो उन सभी का रिजार्च अपने जेब से करवाना मुश्किल है। उन्होंने बताया कि एमएसओ की ओर से सेवा का भुगतान ऑनलाइन करवाने की जानकारी लोगों को दी जा रही है। ऐसे में अगर केबल ऑपरेटर के कर्मचारी शुल्क लेने नहीं पहुंच पा रहे हैं तो लोगों को ऑनलाइन भुगतान कर कनेक्शन कटने से बचना चाहिए।

हमारे सामने हैं तकनीकी समस्या

सुभाष बांते, अध्यक्ष केबल एसोसिएशन ने कहा कि उपजिलाधकारी की ओर से आदेश जारी किया गया है कि शुल्क नहीं भरने पर भी केबल नहीं काटा जाए, लेकिन हमारे सामने कई तकनीकी समस्या आ रही है। यह समस्याएं बगैर ऊपरी स्तर के सहयोग के नहीं टाली जा सकती हैं। एमएसओ और चैनलों को भी सहयोग करना होगा और प्रीपेड शुल्क को जारी रखने की व्यवस्था करनी होगी।

कोई पैसे लेने ही नहीं आया

सुधा सरोदे, सेमिनरी हिल्स निवासी का कहना है की उनके घर में केबल सेवा ठप है। ऐसे समय मेें जब लॉकडाउन में लोगों को घर में रहना पड़ रहा है टीवी खबर और समय गुजारने का एकमात्र साधन है। केबल के पैसे लेने कोई आया भी नहीं और कनेक्शन भी कट गया। है।
 

कमेंट करें
0HU6w