comScore

संतोष आंबेकर व साथियों पर साहूकारी का मामला दर्ज, ठगी का पहले ही चल रहा है केस

संतोष आंबेकर व साथियों पर साहूकारी का मामला दर्ज, ठगी का पहले ही चल रहा है केस

डिजिटल डेस्क,  नागपुर। संतोष आंबेकर पर अब साहूकारी का प्रकरण भी दर्ज किया गया है। तहसील पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर संतोष शशिकांत आंबेकर (49),  सर्राफा व्यापारी राजेंद्र उर्फ राजा गुलाबराव अरमरकर (53) और नीलेश ज्ञानेश्वर केदार (34) पर धारा 386, 504, 506 ब, 34, सहधारा 44, 45 साहूकारी कानून के तहत मामला दर्ज किया है। इस प्रकरण में शामिल आरोपी नीलेश केदार उसका (संतोष) भांजा है। संतोष और नीलेश पर सोनेगांव में भी गुजरात के व्यापारी हेमंत पुरोहित से 1 करोड़ रुपए की ठगी का मामला दर्ज किया गया है। संतोष आंबेकर के खिलाफ लकड़गंज, अंबाझरी, तहसील, सीताबर्डी और सोनेगांव में मामले दर्ज हैं। इसके पहले भी इस आरोपी के खिलाफ कई मामले दर्ज हैं। 

तहसील थाने में दर्ज प्रकरण में यह जिक्र 
पुलिस सूत्रों के अनुसार, कलमना थानांतर्गत वर्ष 2017 में बाल्या गावंडे नामक बदमाश की हत्या की गई थी। इस प्रकरण में जयभारत काले भी आरोपी था। गावंडे हत्याकांड को आरोपी  योगेश कुंभारे व साथियों ने अंजाम दिया था। योगेश का फोन कॉल डिटेल निकालने पर इस प्रकरण में न्यू सुभेदार ले-आउट निवासी जयभारत जयहिंद काले (43) को भी आरोपी बनाया गया था। इस प्रकरण में शामिल जयभारत को जेल से बाहर निकालने के लिए उसके परिजनों से उस समय संतोष आंबेकर ने मुलाकात की थी। तब संतोष आंबेकर ने जयभारत को जेल से जमानत पर बाहर लाने के लिए 15 लाख रुपए लगने की बात परिजनों से की थी।

परिजनों ने असमर्थता जताई तो आंबेकर ने उसका इंतजाम कराने की बात की। करीब चार माह तक जेल में रहने के बाद जयभारत जेल से बाहर आ गया। तब संतोष आंबेकर ने उसे बताया कि उसकी जमानत के लिए करीब 15 लाख रुपए उसने खर्च किया है। संतोष की बात को सही मानकर उस समय काले ने करीब 6 लाख रुपए दे दिया। बाद में काले ने संतोष को करीब 11 लाख 25 हजार रुपए दिए। उसके बाद भी उससे पैसे की मांग की जाती रही। वह संतोष की गुंडागर्दी से वाकिफ था, इसलिए खामोश था। पुलिस ने संतोष और उसके गिरोह के खिलाफ मामले दर्ज करना शुरू किया है। संतोष से पीड़ित लोग अब सामने आने लगे हैं। उसकी ठगी के गुजरात के दो व्यापारी, संतोष के बेटे की मित्र 23 वर्षीय महिला चिकित्सक अब तक सामने आ चुके हैं। संतोष की ठगी के शिकार कई लोग हैं।

कमेंट करें
9p2yS