दैनिक भास्कर हिंदी: केमिकल टैंकर हादसा : केबिन में झुलस गया चालक, दो माह बाद होने वाली थी शादी

November 19th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। नागपुर अमरावती राजमार्ग पर कोंढाली जामनदी की पुलिया के पास रविवार दोपहर 2.30 बजे नागपुर से अमरावती की ओर जा रहा केमिकल से भरा टैंकर पलट गया था। पलटते ही टैंकर में भरे ज्वलनशील पदार्थ में आग लग गई थी। हादसे में टैंकर चालक की झुलसने से मौत हो गई थी, लेकिन उसकी पहचान नहीं हो पाई थी। मृतक (चालक) की पहचान सोनू मनोज दुबे  (22) परौली, जिला फरूखाबाद  निवासी के रूप में हुई है।

चाय पीने नहीं रुका सोनू 
श्री चामुंडा लॉजिस्टिक कंपनी के और चार टैंकर चालक सोनू के टैंकर के साथ ही थे। वे चाय पीने एक ढाबे में रुक गए लेकिन, सोनू नहीं रुका। वह आगे निकला और कोंढाली के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया। टैंकर के जलने से राजमार्ग पर जाम लग गया। सोनू के साथ आने वाले अन्य चार टैंकर दस किमी दूर   जाम में फंसे रहे। उन्होंने सोनू को फोन लगाकर बात करने की कोशिश की, लेकिन उसका फोन बंद आ रहा था। जब वे घटनास्थल पर पहुंचे तो अवाक रह गए।

केबिन में ही झुलस गया
प्राप्त जानकारी के अनुसार, ओडिशा से गुजरात की ओर  पेट्रोलजन्य अतिज्वलनशील पदार्थ बेंजल भरकर जा रहा श्री चामुंडा लाॅजिस्टिक का टैंकर (क्रमांक  जीजे-12, बीटी-5815) 13 नवंबर को ओडिशा के अंगुल स्थित टाटा स्टील  कारखाने से तीस टन पेट्रोलजन्य पदार्थ भरकर भावनगर गुजरात जा रहा था। कोंढाली  के जाम नदी की पुलिया को पार करते ही टायर फूटने से टैंकर राजमार्ग के डिवाइडर पर पलट गया। पलटते ही टैंकर में आग लग गई। इस बीच, टैंकर के ऊपर का ढक्कन खुलने से ज्वलनशील पदार्थ बहने लगा, जिससे टैंकर में लगी आग और भड़क उठी। आग की लपटें तथा भारी धुआं आसमान में छा गया। टैंकर में आग सभी ओर से एक साथ लगने से चालक केबिन से निकल ही नहीं पाया। पुलिस अथवा अन्य व्यक्ति चाहकर भी मदद नहीं कर सके।  इस कारण चालक सोनू मनोज दुबे (22) परौली जिला फरूखाबाद निवासी केबिन में ही झुलस गया। बताया जाता है कि सोनू का विवाह दो महीने बाद होने वाला था।

साथी चालकों ने दी जानकारी
टैंकर जलने से वाहन क्रमांक  तथा वाहन के कागजात एवं अधिक जानकारी पुलिस को नहीं मिल पा रही थी। रात 11 बजे साथी टैंकर चालकों से जलने वाले टैंकर के विषय में जानकारी मिली। सोनू के साथ वाले चालकों ने बताया कि सोनू श्री चामुंडा लाॅजिस्टिक कंपनी में चालक था। 13 नवंबर को ओडिशा अंगुल स्थित टाटा स्टील कंपनी से 30 टन बेंजल ज्वलनशील पदार्थ भरकर  भावनगर जा रहा था। टैंकर में जीपीएस भी लगा था। जीपीएस से मिली लोकेशन के मुताबिक टैंकर  के जीपीएस का संपर्क 17 नवंबर  की दोपहर 2.10 बजे बंद हो गया था। यह जानकारी भी मिली है कि टैंकर का चेचिस क्रमांक जी3बी-04916/63498678 है।