• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Chhindwara: strict action will be taken against the culprits if negligence found in the distribution of food grains to the students - Collector

दैनिक भास्कर हिंदी: छिन्दवाड़ा: विद्यार्थियों के खाद्यान्न वितरण में मिली लापरवाही तो दोषियों पर की जाएगी कड़ी कार्यवाही - कलेक्टर

January 22nd, 2021

डिजिटल डेस्क, छिन्दवाड़ा। छिन्दवाड़ा कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन ने कहा कि मध्यान्ह भोजन योजना के अंतर्गत कोरोनाकाल में विद्यार्थियों के लिए प्राप्त सूखा राशन वितरण में गड़बड़ी के प्रकरण प्रकाश में आना बहुत ही असंवेदनशील कृत्य है। इसकी जांच कराई जा रही है। यदि खाद्यान्न वितरण में लापरवाही पाई जाती है तो दोषियों की जिम्मेदारी तय करते हुए उनके विरूध्द कड़ी कार्यवाही की जाएगी और उनसे विद्यार्थियों को खाद्यान्न का वितरण कराया जाएगा। विद्यार्थियों की सेहत और उनके अधिकारों के साथ किसी भी तरह की लापरवाही स्वीकार नहीं की जाएगी। कलेक्टर श्री सुमन आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित शिक्षा विभाग और सर्व शिक्षा अभियान की समीक्षा बैठक ले रहे थे।

कलेक्टर श्री सुमन ने निर्देश दिए कि जांच अधिकारी प्रकरण की जांच पूरी गंभीरता से करें। खाद्यान्न का पूरा हिसाब रखें। जहां कहीं भी गड़बड़ी नजर आए उसे तत्काल संज्ञान में लाएं। उन्होंने कहा कि यदि खाद्यान्न वितरण में अंतर ऑनलाइन एंट्री ना होने के कारण आ रहा है, तो आगामी तीन दिनों में एंट्री अपडेट करते हुए, फाइनल डाटा प्रस्तुत करें। उन्होंने निर्देश दिए कि आगामी माह से प्रत्येक माह के पहले सप्ताह में गत माह के खाद्यान वितरण की ब्लॉकवार शत-प्रतिशत ऑनलाइन एंट्री अनिवार्य रूप से सुनिश्चित हो जाए। जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय के अंतर्गत फैल्ड पेमेंट वाले प्रकरणों में शत-प्रतिशत छात्रों के खातों में छात्रवृत्ति भुगतान की कार्यवाही आगामी 3 दिनों में पूर्ण कराएं। विभागीय जांच संबंधी सभी लंबित पेंशन प्रकरणों में जिला विभागीय जांच अधिकारी के माध्यम से आगामी 15 दिवस के अंदर जांच पूर्ण कराते हुए निराकरण सुनिश्चित करें। प्रकरणों को अनावश्यक लंबित ना रखें।

कलेक्टर श्री सुमन ने सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत स्व-सहायता समूह द्वारा गणवेश निर्माण की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि विद्यार्थियों की गणवेश का निर्माण गुणवत्तापूर्ण और सही माप अनुसार सुनिश्चित हो। डीपीसी समय-समय पर स्व-सहायता समूह द्वारा तैयार किए जा रहे गणवेश और केंद्रों का औचक निरीक्षण करें। विद्यार्थियों के गणवेश की गुणवत्ता से किसी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने निर्देश दिए कि विद्यार्थियों के वर्ष 2020-21 के प्रतिभा पर्व के अंतर्गत अर्ध्दवार्षिक मूल्यांकन एवं वार्षिक मूल्यांकन का कार्य पूरी गंभीरता से और निर्धारित समय सारणी के अनुसार किया जाए। बच्चों का सही मूल्यांकन उनके भविष्य से जुड़ा है। इस कार्य में किसी भी तरह की लापरवाही ना हो।

बैठक में कलेक्टर श्री सुमन द्वारा हमारा घर हमारा विद्यालय के अंतर्गत संचालित गतिविधियों, शाला दर्पण, आरटीई फीस प्रतिपूर्ति, शैक्षिक मॉनिटरिंग, शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार एवं परीक्षा परिणाम में वृध्दि के लिए लक्ष्य निर्धारण आदि की भी विस्तृत समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी श्री अरविंद चौरागढे और जिला शिक्षा केंद्र के जिला परियोजना समन्वयक श्री जी.एल.साहू द्वारा विभागीय जानकारी प्रस्तुत की गई।