comScore

चीन का रवैया ठीक नहीं, चीनी उत्पादों का बहिष्कार हो- राज्यपाल

चीन का रवैया ठीक नहीं, चीनी उत्पादों का बहिष्कार हो- राज्यपाल



डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा। छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसुइया उइके ने भारत-चीन सीमा  पर तनाव की स्थिति पर चिंता जताई है। उन्होंने कहा कि चीन का रवैया ठीक नहीं है। हमारे 20 सैनिक शहीद हुए हंै। हमारी सेना भी कम नहीं है, सेना और सरकार समय आने पर जवाब देगी। प्रधानमंत्री चिंता जता चुके हैं। हम उनकी अर्थव्यवस्था को कमजोर कर सकते हैं। चीनी वस्तुओं का बहिष्कार करना चाहिए। सुश्री उइके पिछले तीन दिनों से निजी प्रवास पर छिंदवाड़ा में हैं। भास्कर से चर्चा में उन्होंने यह बात कही।  
छत्तीसगढ़ में अपने करीब एक साल के कार्यकाल पर चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि उनके वहां जाने के बाद से खासतौर पर ट्राइबल के लोगों में यह आत्मविश्वास जागा है कि उनकी कोई सुनने वाला है। उन्होंने कहा कि दूर-दूर से लोग उनके पास आते हैं। आदिवासी महिलाएं तक उनके पास पहुंचती हैं। छत्तीसगढ़ के कोंडा गांव के महिला स्व सहायता समूह जो कि जंगल में कालीमिर्च उगाकर अपनी जीविका चलाता है। फॉरेस्ट विभाग उन्हें रोकता था। जब महिलाओं ने यह बात बताई तो फारेस्ट डिपार्ट से चर्चा कर समस्या का समाधान कराया गया। सुश्री उइके ने बताया कि उन्होंने अति पिछड़े कोंडा गांव को गोद लिया और वहां का विकास कराया। सुश्री उइके ने बताया कि वर्ष 2013 में सरकार ने अति पिछड़ी जनजाति की विशेष भर्ती बंद कर दी थी। यह बात जब उनके सामने आई तो उन्होंने सरकार को पत्र लिखा। अब छत्तीसगढ़ सरकार ने उक्त भर्ती प्रक्रिया 2021 तक के लिए बढ़ा दी है। इसी तरह सरगुजा और बस्तर में तृतीय और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के लिए अलग से चयन बोर्ड की स्थापना कराई है।

कमेंट करें
aN7Q0