दैनिक भास्कर हिंदी: तोड़फोड़ करनेवाले एबीवीपी कार्यकर्ताओं की राज्यपाल विद्यासागर राव से हुई शिकायत

February 10th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। मानवाधिकार संरक्षण जागृति ने नागपुर विद्यापीठ में तोड़फोड़ व सुरक्षा रक्षकों से हाथापाई करनेवाले एबीवीपी के कार्यकर्ताओ की शिकायत राज्यपाल से की है। एबीवीपी कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई करने की मांग के साथ ही कुलगुरु का भी इस्तीफा मांगा है। मानव अधिकार संरक्षण जागृति के उपाध्यक्ष डा. अभिषेक हरिदार ने कहा कि एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने शासकीय संपत्ति का नुकसान किया है। विद्यापीठ प्रशासन ने इस पर कोई कार्रवाई नहीं की। हंगामा व तोड़फोड़ के दौरान पुलिस भी मैाजूद थी। विद्यापीठ प्रशासन ने कार्रवाई नहीं करने से इसकी शिकायत राज्यपाल से कर दोषियों पर कार्रवाई करने की मांग की गई है। कार्रवाई नहीं होने से हंगामा करनेवालों को अप्रत्यक्ष रूप से प्रोत्साहन मिला है। शिकायत की कॉपी उच्च तकनीकी सहसंचालक को भी दी गई। सीनेट सभा में भी यह मुद्दा उठ सकता है। 

कार्रवाई होगी : कुलगुरु 

नागपुर विद्यापीठ के गुलगुरु डॉ. सिद्धार्थविनायक काणे के मुताबिक विद्यापीठ में तोड़फोड़ कर शासकीय संपत्ति का नुकसान करनेवालों पर कार्रवाई की जाएगी। 

"बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ' में फर्जीवाड़े का आरोप

उधर बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ योजना के नाम पर फर्जीवाड़ा हो रहा है। इसका खुलासा हुआ है। योजना में 2 लाख रुपए मिलने का झांसा देकर नागरिकों को फॉर्म बेचे जा रहे हैं। शहर के इमामवाड़ा, जाटतरोड़ी, कॉटन मार्केट एरिया के नागरिकों ने पोस्ट ऑफिस में इसके लिए 50 रुपए भी भरे हैं। इस तरह से आम नागरिकों को फर्जीवाड़ा कर गुमराह करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। नागपुर शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष विकास ठाकरे के नेतृत्व में शहर सचिव सुनील जाधव ने आरोप लगाते हुए महापौर नंदा जिचकार को ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर दक्षिण पश्चिम रोजगार कांग्रेस सेल के अध्यक्ष नितीन बैस्वारे, कामगार नेता अविनाश डेलीकर, बंडू बामनेट, परमजीत समुंद्रे, अशोक धूरिया, नारायण मलिक, प्रवीण मोगरे, रोशन इमले, कपिल जाधव, रवि धूरिया, धीरज खरे आदि उपस्थित थे।