दैनिक भास्कर हिंदी: छिंदवाड़ा में कोरोना ब्लास्ट: 10 मरीजों की मौत, 29 नए संक्रमित मिले

March 25th, 2021


डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा। मेडिकल कॉलेज से सबद्ध जिला अस्पताल की कोविड यूनिट में भर्ती मरीजों में से 9 की गुरुवार को मौत हो गई। वहीं पांढुर्ना के एक मरीज की नागपुर में इलाज के दौरान मौत हो गई। इस तरह गुरुवार को मौतों का आंकड़ा दस तक पहुंच गया, जो कोरोनाकाल में अब तक का एक दिन में मौतों का सबसे बड़ा आंकड़ा माना जा रहा है। वहीं सिम्स लैब से गुरुवार को 951 मरीजों की रिपोर्ट जारी की गई। इनमें से 29 मरीज कोरोना पॉजिटिव मिले है। वहीं 12 मरीजों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है।
स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों में से 9 मरीजों की मौत हुई है। मृतकों में दो कोरोना पॉजिटिव मरीज थे। वहीं सात मरीज कोरोना संदिग्ध थे। इसके अलावा पांढुर्ना निवासी फारेस्ट के एक कर्मचारी की नागपुर के एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। संक्रमण के साथ मौतों के लगातार बढ़ रहे आंकड़ों से जिले में दहशत का माहौल है।  ग्रामीण इलाकों में फैला संक्रमण-
कोरोना की दूसरी लहर का संक्रमण अब सिर्फ शहरी क्षेत्र तक सीमित नहीं है, बल्कि ग्रामीण इलाकों में भी तेजी से फैल रहा है। सिम्स लैब से जारी रिपोर्ट से स्पष्ट है कि सौंसर, पांढुर्ना, मोहखेड़ और शहरी क्षेत्र से लगे ग्रामीण इलाकों से हर रोज संक्रमित सामने आ रहे है। सांैसर और पांढुर्ना में कोरोना के 50 से अधिक एक्टिव केस है। ग्रामीण इलाकों में कोरोना के वायरस को कंट्रोल कर पाना स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन के लिए बड़ी चुनौती होगा।
कोरोना पीडि़त वनपाल की नागपुर में मौत-
वन परिक्षेत्र पांढुर्ना में पदस्थ एक वनपाल की नागपुर अस्पताल में गुरुवार की सुबह मृत्यु हो गई। वनपाल पंद्रह दिनों से नागपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती थे। उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। कोरोना प्रोटोकॉल के तहत नागपुर में ही उनका अंतिम संस्कार किया गया।
सौंसर में दहशत, तीन लोगों की संदिग्ध मौत-
सौंसर और पांढुर्ना को कोरोना का हॉट स्पॉट माना जा रहा है। गुरुवार को सौंसर के जिला अस्पताल में दो कोरोना संदिग्धों की मौत के अलावा नागपुर में तीन संदिग्ध मरीजों की मौत हुई है। हालांकि स्थानीय प्रशासन इन्हें सामान्य मौतें बता रहा है। बताया जा रहा है कि सौंसर निवासी 45 वर्षीय महिला, सिविल लाइन निवासी 40 वर्षीय व्यापारी और 70 वर्षीय बुजुर्ग की गुरुवार को नागपुर में इलाज के दौरान मौत हुई है। इस संबंध में एसडीएम सत्येम कुमार का कहना है कि गुरुवार को मृत लोगों की जानकारी मिली है। सभी मामलों का फॉलोअप लिया जा रहा है। मृत्यु के कारण स्पष्ट नहीं है। संक्रमण रोकने पूरी एहतियात बरती जा रही है।
निधन के बाद आई कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट-
चौरई के एक सेवानिवृत्त कर्मचारी का बुधवार को निधन हो गया। गुरुवार को सामाजिक रीति रिवाजों के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम संस्कार के बाद तहसीलदार रायसिंह कुशराम, टीआई शशि विश्वकर्मा सहित राजस्व, स्वास्थ्य और पुलिस का अमला मृत कर्मचारी के निवास पर पहुंचा। प्रशासनिक अमले के मुताबिक मृतक की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव होने से घर को कंटेनमेंट एरिया बनाकर अंतिम संस्कार में शामिल सभी लोगों की कोविड जांच की जाएगी। इस दौरान अधिकारियों और परिजनों की बहस भी हुई। परिजनों का कहना था कि बुधवार सुबह तक रिपोर्ट नहीं आने पर परिजनों ने अंतिम संस्कार कर दिया।
इन क्षेत्रों के आए पॉजिटिव-
सिम्स लैब से जारी रिपोर्ट में गुरुवार को 29 पॉजिटिव मिले। इनमें मोहखेड़ के ग्राम खैरवाड़ा के चार, तामिया के साजकुही के दो, जुन्नारदेव के दो, शहर के शंकर नगर से दो, चंदनगांव के दो, सौंसर के देवी, मिश्रा कॉलोनी,  न्यू पहाड़े कॉलोनी, खापाभाट वार्ड नम्बर दस, परासिया रोड, आजाद चौक, राजपाल चौक, पिपलानारायणवार, बिछुआ, शिवनगर कॉलोनी, परासिया के नहरिया, मेग्जीन लाइन, रोहनाकला, गुलाबरा गली नम्बर चार, चौरई वार्ड नम्बर आठ, दमुआ वार्ड नम्बर 11, अमरवाड़ा के वार्ड नम्बर चार के एक-एक मरीज की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।
इन मरीजों ने तोड़ा दम-
- सौंसर के ग्राम खैरी निवासी 35 वर्षीय युवक।
- मोहखेड़ के ग्राम लिंगा निवासी 60 वर्षीय वृद्धा।
- कोविड यूनिट में भर्ती 54 वर्षीय महिला।
- पांढुर्ना के ग्राम राजना निवासी 65 वर्षीय वृद्धा।
- शहर के साईंराम कॉलोनी निवासी 58 वर्षीय महिला।
- शहर के गुलाबरा गली नम्बर 4 निवासी 72 वर्षीय वृद्धा।
- जोगनीखापा निवासी 46 वर्षीय युवक।
- ईएलसी चौक निवासी 75 वर्षीय वृद्धा।
- सौंसर के वार्ड नम्बर दस निवासी 50 वर्षीय अधेड़।
- पांढुर्ना के वनकर्मी की नागपुर में इलाज के दौरान मौत।
- सौंसर के अलग-अलग क्षेत्रों के तीन लोगों की नागपुर में मौत।

खबरें और भी हैं...