दैनिक भास्कर हिंदी: अगले 15 दिनों में छिंदवाड़ा मेडिकल कॉलेज में शुरू हो जाएगी कोरोना जांच लैब

April 27th, 2020

 डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा। छिंदवाड़ा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस में अगले दो सप्ताह में नोवेल कोरोना वायरस संक्रमण की जांच शुरू हो जाएगी। सिम्स के माइक्रोबायलॉजी लैब को आईसीएमआर लैब में तब्दील कर दिया गया है। रविवार को छिंदवाड़ा पहुंचे जबलपुर संभाग कमिश्नर महेशचंद्र चौधरी ने सिम्स की लैब का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान कमिश्नर को मेडिकल कॉलेज डीन डॉ.जीबी रामटेके ने जांच के लिए जरुरी उपकरण, स्टाफ समेत अन्य जानकारी दी। कमिश्नर ने लैब जल्द शुरू करने के निर्देश दिए। इस दौरान डीन डॉ.रामटेके ने कहा कि जांच उपकरण लगने के बाद सब ठीक रहा तो अगले दो सप्ताह में लैब शुरू कर दी जाएगी।
डीन डॉ.रामटेके ने बताया कि रविवार को मेडिकल के दो डॉक्टर और तीन टेक्निशियनों का दल जबलपुर मेडिकल कॉलेज में प्रशिक्षण लेने रवाना हो चुका है। तीन दिनों के प्रशिक्षण के बाद स्टाफ यहां आकर लैब शुरू करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। निरीक्षण के पश्चात कमिश्नर श्री चौधरी ने बैठक में मेडिकल कॉलेज और प्रशानिक अधिकारियों को निर्देश दिए कि लैब जल्द शुरू करने के साथ कोरोना के टेस्ट बढ़ाए। इस दौरान उन्होंने कहा कि जरुरत पढऩे पर कर्मचारी बढ़ाए ताकि काम प्रभावित न हो। कमिश्नर ने आईसोलेशन व वेंटिलेटर ज्यादा से ज्यादा रखने के साथ आने वाले समय को देखते हुए कार्ययोजना बनाने के निर्देश भी दिए। निरीक्षण और बैठक में कलेक्टर डॉ.श्रीनिवास शर्मा समेत अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
मरीजों से पूछा कैसा मिल रहा इलाज-
मेडिकल कॉलेज के निरीक्षण के बाद कमिश्नर महेशचंद्र चौधरी जिला अस्पताल पहुंचे। यहां उन्होंने अस्पताल की नई बिल्डिंग का निरीक्षण किया। इस दौरान आईसीयू में भर्ती मरीजों से कमिश्नर ने पूछा कि अस्पताल में कैसा इलाज मिल रहा है। संतोषजनक जवाब मिलने के बाद उन्होंने आईसीयू में मिलने वाली व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने आईसोलेशन, वेंटिलेटर, दवाइयों का भंडारण, साफ-सफाई  के संबंध में चिकित्सक व अधिकारियों को निर्देश दिए।
 

खबरें और भी हैं...