दैनिक भास्कर हिंदी: छिंदवाड़ा में कोरोना का कहर जारी: 9 संदिग्धों की मौत, 68 नए संक्रमित मिले, दहशत में लोग

April 3rd, 2021

 


डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा। जिले में कोरोना संक्रमण की रफ्तार लगातार बढ़ते जा रही है। शनिवार को 68 नए संक्रमित पाए गए हैं। एक दिन पहले शुक्रवार को  70 मरीज मिले थे। नए संक्रमितों के साथ ही जिले में मौतों के आंकड़े भी बढ़े हुए हैं। शनिवार को 9 कोरोना संदिग्ध मरीजों ने दम तोड़ा है। जिसमें एक मरीज शहर के निजी अस्पताल में भर्ती था। मेडिकल कॉलेज की आरटीपीसीआर लैब से जारी टेस्ट रिपोर्ट में शनिवार को 68 लोगों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्रों के ज्यादा मरीज हैं। जिन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, उनमें सबसे ज्यादा सौंसर क्षेत्र के 23 लोग शामिल हैं। इसके अलावा जुन्नारदेव से 7, जिला अस्पताल भर्ती मरीजों में से 8, मोहखेड़ से 2, चौरई से 4, परासिया से 4, पिंडरईकला से 14,  बिछुआ से 7, पांढुर्ना से 1 और हर्रई से 1 व्यक्ति संक्रमित मिला है। इन संक्रमितों की पहचान कर उनका उपचार और कंटेनमेंट बनाने का कार्य जिला प्रशासन की देखरेख में शुरू किया गया है। शनिवार को जारी जांच रिपोर्ट में पूर्व से संक्रमित 35 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। ये सभी 35 लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हुए हैं। इधर प्रशासन की ओर से जारी कोरोना बुलेटिन में नए संक्रमितों के आंकड़े तो दर्शाए गए हंै लेकिन मौतों की पुष्टि नहीं की गई है।
25 वर्षीय युवक सहित 9 का कोरोना प्रोटोकॉल में हुआ अंतिम संस्कार:
जिले में शनिवार को कोरोना संदेही के रूप में चौरई के झिलमिली के एक 25 वर्षीय युवक के साथ ही 9 लोगों ने दम तोड़ा है। सभी मृतकों का कोविड उपचार जारी था। इनमें मोहगांव हवेली के 65 वर्षीय बुजुर्ग, गुलाबरा क्षेत्र की 80 साल बुजुर्ग महिला, चौरई के गुरैया का 75 वर्षीय महिला, अपनी रसोई के पीछे परासिया रोड में रहने वाला एक व्यक्ति जो निजी अस्पताल में भर्ती था। इकलहरा का 55 वर्षीय पुरूष, माता मंदिर कॉलोनी चंदनगांव की 45 वर्षीय महिला, उमरानाला से 41 वर्षीय महिला और छिंदवाड़ा का एक 61 वर्षीय बुजुर्ग शामिल है। इनमें से 7 मृतकों का अंतिम संस्कार परतला मोक्षधाम और 2 का अंतिम संस्कार काराबोह कब्रिस्तान में किया गया है।
संक्रमित नर्स करते रही ड्यूटी
वेकोलि अस्पताल बड़कुही में पदस्थ छिंदवाड़ा निवासी नर्स की कोरोना रिपोर्ट पाजिटिव आई है। चार दिन पहले उसकी कोरोना जांच के लिए सेंपलिंग हुई थी, इसके बावजूद भी वह सर्जिकल वार्ड में ड्यूटी में आते रही। शुक्रवार को उसकी रिपोर्ट पाजिटिव आने पर हड़कंप मच गया। शनिवार को श्रम संगठनों के पदाधिकारी मीर हसन, राजेश सूर्यवंशी सहित अन्य नेे सीएमओ डॉ गीतांजलि माथुर से संक्रमित नर्स सहित उसके साथ वाहन में छिंदवाड़ा से ड्यूटी पर आने वाले अन्य चार कर्मचारियों को अवकाश पर भेजने की मांग की। इसके साथ ही यहां आने वालों की थर्मल स्क्रीनिंग की भी मांग की है।

खबरें और भी हैं...