comScore

कोरोना संकट: दुनिया के अन्य देशों से बेहतर स्थिति में भारत, तेजी से बढ़ रहा रिकवरी रेट- मोदी

June 27th, 2020 14:55 IST
कोरोना संकट: दुनिया के अन्य देशों से बेहतर स्थिति में भारत, तेजी से बढ़ रहा रिकवरी रेट- मोदी

हाईलाइट

  • पीएम बोले- दूसरे देशों की तुलना में भारत की स्थिति अच्छी
  • ग्राउंड से मिले फीडबैक के बाद फैसले लेती है सरकार- मोदी

डिजिटल नई दिल्ली। देश में जारी कोरोना के कहर को लेकर विपक्ष लगातार केंद्र सरकार पर निशाना साध रहा है। इसी बीच शनिवार को एक कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, महामारी के मामले में दुनिया के अन्य देशों की तुलना में भारत की बेहतर स्थिति में है। यहां रिकवरी रेट तेजी से बढ़ रहा है। इतना ही नहीं उन्होंने केंद्र सरकार के हर फैसले के पीछे ग्राउंड रिपोर्ट की भूमिका बताई है।

देश में वैश्विक महामारी की स्थिति को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, इस साल की शुरुआत में कुछ लोगों ने अनुमान लगाया था, भारत देश में वायरस का प्रभाव बहुत गंभीर होने वाला है। लॉकडाउन के बाद सरकार ने कई बड़े कदम उठाए। लोगों ने भी इस लड़ाई में काफी सहयोग किया। जिसकी वजह से भारत दूसरे देशों की तुलना में अच्छी स्थिति में है।

Virus Crisis: राहुल बोले- PM ने किया सरेंडर, सरकार के पास कोरोना से निपटने का कोई प्लान नहीं

दरअसल पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शनिवार को डॉ. जोसेफ मार थोमा मेट्रोपॉलिटन के 90वें जन्मदिन समारोह को संबोधित करते हुए कहा, भारत सरकार धर्म, लिंग, जाति, पंथ या भाषा के बीच भेदभाव नहीं करती है। हम 130 करोड़ भारतवासियों को मजबूत बनाने की इच्छा से निर्देशित हैं और हमारा मार्गदर्शक प्रकाश भारत का संविधान है।

इस दौरान प्रधानमंत्री ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग की चर्चा करते हुए कहा, अब तक देश में इस लड़ाई ने अच्छे परिणाम दिए हैं। प्रधानमंत्री ने लोगों को और अधिक सावधान रहने पर भी बल दिया। उन्होंने कहा, क्या हम सावधानियों को कम कर सकते हैं? बिल्कुल नहीं। हमें अब और अधिक सावधानी बरतने की जरूरत है। मास्क पहनना, सामाजिक दूरी, दो गज की दूरी, भीड़ भरे स्थानों से बचने की जरूरत है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, हम दिल्ली के आरामदायक सरकारी दफ्तरों में बैठकर नहीं बल्कि ग्राउंड से मिले फीडबैक के बाद फैसले लेते हैं। इसी भावना के कारण आज हर भारतीय का बैंक खाता खुल सका है। आज 8 करोड़ से अधिक परिवारों के पास धुएं से मुक्त रसोई है। डेढ़ करोड़ से अधिक घर बनाकर बेघरों को दिए गए हैं। भारत के पास दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य सेवा योजना के तौर पर आयुष्मान भारत है।

कमेंट करें
PCv6h