comScore

कूरियर कंपनी  को आरटीओ में पंजीयन कराना होगा, नागपुर में है 5 सौ से अधिक कंपनियां

कूरियर कंपनी  को आरटीओ में पंजीयन कराना होगा, नागपुर में है 5 सौ से अधिक कंपनियां

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कूरियर कंपनी को आरटीओ में पंजीयन कराना हो पंजीयन नहीं रहा तो सामान एक जगह से दूसरी जगह नहीं ले जाया जा सकेगा। प्रमाणपत्र दिखाने के बाद ही सामान ले जाने की परमिशन मिल सकेगी। जरूरतों की चीजों को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाने के लिए दिन-ब-दिन शहर में कूरियर कंपनियां बढ़ती जा रही हैं। शहर में करीब 5 सौ से ज्यादा कंपनियां हैं। बावजूद इन कंपनियों के बारे में विभाग के पास इसकी जानकारी नहीं है। इन कंपनियों पर किसी का सीधा नियंत्रण नहीं है। यह कंपनियां धड़ल्ले से रोजाना एक जगह से दूसरी जगह तक विभिन्न सामान भेजती हैं, लेकिन अब बीना प्रमाण-पत्र के ऐसा नहीं कर सकेंगीं। यही नहीं सड़क मार्ग से सामान लेकर जाने के लिए सभी कंपनियों को आरटीओ में पंजीयन कराना होगा। हाल ही में केन्द्रीय सड़क यातायात व महामार्ग मंत्रालय की ओर से यह आदेश जारी किया गया है। नागपुर शहर में डाक विभाग के बाद निजी कूरियर कंपनियों के माध्यम से ही कोई वस्तु का आदान-प्रदान किया जाता है। फिर वह एक नगर से दूसरे नगर में हो या शहर या देश से बाहर। एक शहर से दूसरे शहर सामान लेकर जाते समय कई वाहनों का प्रयोग किया जाता है। ऐसे में जरूरी नहीं है कि, इसका इस्तेमाल कोई अापराधिक गतिविधियों में न हो। यदि ऐसा होता है तो इन गाड़ियों के बारे में किसी भी विभाग के पास कोई जानकारी नहीं  है। 

डीबीए ने शुरू की नि:शुल्क शटल सर्विस
जिला बार एसोसिएशन (डीबीए) की ओर से वकीलों के लिए नि:शुल्क शटल सर्विस (वाहन सेवा) शुरु की गई है। इस सेवा के जरिए वकीलों को कोर्ट परिसर से लेकर पार्किंग (सुयोग बिल्डिंग/करोड़पति गली) तक ले जाया जाएगा।   प्रधान जिला व सत्र न्यायाधीश ए.जे. मंत्री ने  इस सेवा का शुभारंभ किया। न्यायाधीश एस.जे. भारुखा,  डीबीए अध्यक्ष कमल सतूजा व अन्य सदस्य कार्यकम में विशेष रूप से उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि, जिला न्यायालय में पार्किंग प्रबंधों को सुधारने के लिए डीबीए ने सभी चारपहिया वाहनों की परिसर मंे पार्किंग बंद कर सुयोग बिल्डिंग में जगह दी थी। यह फसला जरा ज्यादा होने से अब डीबीए ने शटल सेवा की शुरुआत की है। इस दौरान डीबीए के  सचिव नितीन देशमुख, अधिवक्ताओं में मीनाक्षी माहेश्वरी, कीर्ति कडू, पारुल शेंद्रे, शबाना खान, सौरभ राऊत, विनोद खोब्रे, रोशन बागड़े, आशीष शेंडे, अब्दुल बशीर, अजय लोखारे, अख्तर अंसारी व अन्य प्रमुखता से   उपस्थित थे। 
 

कमेंट करें
kjNnx