दैनिक भास्कर हिंदी: आधी रात को पकड़ा क्रिकेट का सट्टा - एक दिन पहले ही लग रहे थे दांव

November 5th, 2019

डिजिटल डेस्क  जबलपुर। गढ़ा पुलिस ने शारदा चौक पेट्रोल पंप के पास क्रिकेट का सट्टा खिलाने वाले एक सटोरिये को पकड़ा है जबकि उसका दूसरा साथी फरार हो गया। कार्रवाई के दौरान पुलिस ने एलईडी टीव्ही लैपटॉप, 6 मोबाइल व साढ़े दस हजार नकदी व लाखों का हिसाब-किताब जब्त किया है। इस कार्रवाई में सबसे दिलचस्प बात यह है कि सटोरिया 5 नवम्बर को होने वाले मैच के लिए दाँव लगा रहा था। पुलिस ने क्रिकेट का सट्टा पकड़कर आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर जाँच में लिया है। सूत्रों के अनुसार गढ़ा पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि शारदा चौक पंप के पास दो व्यक्ति खड़े हैं जो कि क्रिकेट का सट्टा लिख रहे हैं। सूचना पर पुलिस ने दबिश दी तो वहाँ खड़े सटोरिये भागने लगे, जिनमें से एक व्यक्ति को पुलिस ने पकड़ लिया। पूछताछ में उसने अपना नाम शीलचंद झारिया उम्र 44 वर्ष निवासी शारदा चौक बताया उसके पास मिली कॉपी की जाँच करने पर पता चला कि 5 नवम्बर को इंग्लैंड व न्यूजीलैंड के बीच खेले जाने वाले मैच के लिए खाई बाजी की जा रही थी। पूछताछ में उसने चेरीताल निवासी अभिषेक पटेल के लिए सट्टा लिखना बताया। सटोरिये के पकड़े जाने पर पुलिस ने चेरीताल स्थित अभिषेक पटेल के घर पर छापा मारा तो वहाँ आरोपी नहीं मिला।  
लेकिन उसके घर से  क्रिकेट के सट्टे में प्रयुक्त होने वाले उपकरण व घटनास्थल से एलईडी टीव्ही, लैपटॉप, 2 पैनड्राइव, 6 कीपैड मोबाइल, 1 लैपटॉप चार्जर, 1 एक्सटेंशन बोर्ड मय वायर,  यूएसबी केबल, कनैक्टर, 2 नोट बुकें जिनमें सट्टे का हिसाब-किताब लिखा है तथा नकदी 10 हजार 500 रुपये जब्त किए हैं। 
सटोरिये के सामने पुलिस अपाहिज  
जानकारों के अनुसार शहर में रोजाना करोड़ों का सट्टा खिलाया जा रहा है इसकी जानकारी जिले मेें पुलिस की विभिन्न शाखाओं व आला अधिकारियों के पास जमें कुछ चुनिंदा वर्दीधारियों को है और उनकी कृपा से सटोरियों का कारोबार फल फूल रहा है पुलिस सटोरियों के इस साम्राज्य के सामने अपाहित जैसी स्थिति में नजर आती है।  जो अमला सटोरियों की सेटिंग से अनजान है वह कभी कभार छोटा-मोटा सट्टा पकड़ लेता है लेकिन बड़े सटोरिये पुलिस की पकड़ से बाहर हैं। 
 

खबरें और भी हैं...