comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

Crime : चालक गया था नहाने और चोर ट्रक ले भागे, दंपति ने किया फर्जी एक्सिडेंट क्लेम

Crime : चालक गया था नहाने और चोर ट्रक ले भागे, दंपति ने किया फर्जी एक्सिडेंट क्लेम

डिजिटल डेस्क, नागपुर। तीन स्थानों पर चोरी की घटनाओं में लकड़गंज थाना क्षेत्र में सरिया से भरा ट्रक चुरा लिया गया। वहीं सदर में फल विक्रेता की दुकान से नकदी चुरा ली गई। शुक्रवार को संबंधित थानों में प्रकरण दर्ज किए गए। अभी तक आरोपियों का कोई सुराग नहीं मिला है। पुलिस के अनुसार ट्रक क्र.-सी.जी.-04-जे.-5037 से 20 टन टीएमटी सरिया कहीं भेजा गया था। शुक्रवार के तड़के साढ़े चार से साढ़े सात बजे के बीच ट्रक चालक संतोष पांडे (38), नेताजी नगर, नागपुर निवासी ने ट्रक स्मॉल फैक्टरी एरिया में एक समाज भवन के सामने खड़ा किया और नहाने चला गया। संतोष जब नहाकर वापस लौटा तो ट्रक गायब था। किसी ने सरिया समेत ट्रक चुरा लिया था। उसने इसकी तत्काल ट्रक मालिक दुर्गेश ठाकुर को जानकारी दी। इसके बाद मामला थाने पहुंचा। चोरों ने 7 लाख 58 हजार 589 रुपए का सरिया और ट्रक, ऐसे कुल 14 लाख 8 हजार रुपए के माल पर हाथ साफ किया है। आरोपियों की तलाश में फुटेज खंगाले जा रहे है, लेकिन अभी तक आरोपियों का कोई सुराग नहीं मिला है। 

दो ट्रकों में मिली 7 ब्रॉस अवैध रेत

उधर कन्हान पुलिस स्टेशन अंतर्गत वाघोली शिवार में शनिवार को सुबह 8.40 से 9.15 बजे के दौरान पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर रामटेक से कन्हान की ओर आ रहे दो दस चक्का ट्रकों को रोककर उसकी तलाशी लेने पर ट्रक में कुल 7 ब्रॉस रेत अवैध रूप से परिवहन करते हुए नजर आई। पुलिस ने दोनों ट्रक जब्त कर 7 ब्रॉस रेत सहित कुल 21 लाख 28 हजार रुपए का माल जब्त किया। पुलिस के अनुसार ट्रक क्र.-एम.एच.-40-बी.एल.-1403 तथा ट्रक क्र.-एम.एच-40-डी.जी.-4197 जब्त किए गए हैं। पुलिस अधीक्षक राकेश ओला के मार्गदर्शन में पुलिस निरीक्षक अरुण त्रिपाठी, पीएसआई जावेद शेख, पुलिसकर्मी अरुण सहारे, प्रवीण चौहान, वैभव बोरपल्ले, जितेंद्र गावंडे आदि ने कार्रवाई में हिस्सा लिया। कन्हान पुलिस ने धारा 379, 34 के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

गल्ले से उड़ाए 2.30 लाख

उधर सावनेर तहसील के टाकली भंसाली निवासी दुर्गा ठाकुर (64) फल और सब्जी विक्रेता हैं। सदर मंगलवार बाजार में उसकी दुकान है। शुक्रवार को रात साढे दस बजे दुकान बंद करने से पूर्व दुर्गा लैंम्प वापस करने लैम्प वाले के यहां गया था। कुछ देर बाद वापस दुकान में लौटने पर दुकान के गल्ले से 2 लाख 30 हजार रुपए से भरी थैली गायब थी। भरे बाजार मंे हुई इस घटना से कुछ समय के लिए हड़कंच मच गया। प्रकरण दर्ज किया गया है। जांच जारी है। 

फर्जीवाड़ा-दंपति ने किया फर्जी एक्सिडेंट क्लेम

उधर दंपति द्वारा फर्जी एक्सिडेंट इंश्योरेंस क्लेम करने का खुलासा होने पर देर रात धंतोली थाने में दंपति के खिलाफ धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कर लिया गया। आरोपी प्रीति जिभेकर और उसका पति वरुण रमेश जिभेकर, आंबेडकर नगर, धरमपेठ निवासी है। जिभेकर दंपति का किराए पर वाहन चलाने का कारोबार है। 2 सितंबर-2014 को जिभेकर दंपति के वाहन से वर्धा रोड स्थित नीरी के समीप भीषण हादसा हुआ था। हादसे में मेश्राम नामक प्राध्यापक की मौत हुई थी। धंतोली थाने में यह प्रकरण दर्ज है। इश्योरेंस कंपनी के प्रबंधक मुकेश ठाकरे (38) ने जब प्रकरण की जांच पड़ताल की, तब इस मामले का खुलासा हुआ कि दंपति ने इश्योरेंस की अवधि खत्म होने के बाद भी फर्जी दस्तावेजों के आधार पर क्लेम िकया। प्रकरण को गंभीरता से लेकर दंपति के खिलाफ थाने में शिकायत की गई। शुक्रवार की रात को प्रकरण दर्ज किया गया। आरोपी दंपति को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है। दुय्यम निरीक्षक पाटील मामले की जांच कर रहे हैं।

शराबियों का जमघट खुलेआम खेलते हैं जुआ

उधर उत्तर नागपुर के कमाल चौक के पास शनिचरा बाजार है। बाजार में सब्जी विक्रेताओं के लिए बने ओटे (चबूतरे) शाम ढलते ही मयखाने में तब्दील हो जाते है। नागरिकों का कहना है कि, पांचपावली थाने से महज आधा किलोमीटर दूरी पर स्थित बाजार में खुलेआम झलकते जाम व जुआ खेलते देख लगता है जैसे शराबियों में पुलिस का खौफ खत्म हो गया है। महज आधा किमी दूर चल रही असामाजिक गतिविधि के बारे में पुलिस विभाग को भनक तक नहीं लगने की बात से नागरिक गश्तीदल पर सवालिया निशान लगा रहे हैं। शराबियों की इस हरकत से जहां सब्जी विक्रेता परेशान है, वहीं महिला व युवतियों में बाजार पहुंचने पर डर का माहौल बना रहता है। कुछ सब्जी विक्रेताओं ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि रोजी-रोटी कमाने बैठे हैं, इन बदमाशों से कौन पंगा लेगा। शिकायत करने पर मारपीट करते हैं। मजे की बात यह है कि लॉकडाउन में ढील दिए जाने के बाद जब बार में शराब बिक्री की अनुमति मिली थी तब कई शराबियों ने इन ओटे को अपना ठिकाना बना लिया था, जो अभी भी बार और दुकान से शराब खरीदकर यहां पहुंच जाते है।

इतवारी में 3.68 लाख के गहने चोरी

वहीं इतवारी में गहने बनाने वाली दुकान के शटर का ताला काटकर अज्ञात चोर ने सोने-चांदी के गहने सहित करीब 3 लाख 68 हजार रुपए के माल पर हाथ साफ कर दिया। पुलिस के अनुसार दुकान में सोने-चांदी की गलाई कर गहने बनाने का काम किया जाता था। आरोपी की करतूत दुकान में लगे कैमरे में कैद हुई है। चोर ने चेहरे पर मास्क लगा रखा था, इसलिए पहचान में थोड़ी मुश्किल है। तहसील पुलिस ने आरोपी को जल्द गिरफ्तार करने का दावा किया है।  पुलिस सूत्रों के अनुसार गांव शामसुंदरपुर, तहसील घाटला, जिला मिदनापुर, पश्चिम बंगाल निवासी बंसरी सुशील सामोही ने तहसील थाने में चोरी की शिकायत दर्ज कराई है। बंसरी ने पुलिस को बताया कि, वह प्रेम नगर, झंडा चौक, नागपुर में रहता है, लेकिन मूलत: पश्चिम बंगाल का है। उसकी इतवारी, निकालस मंदिर के पास इंद्रजीत काॅम्प्लेक्स में सोने के गहने बनाने की दुकान है। 9-10 अक्टूबर की रात उसकी दुकान में अज्ञात चोर ने शटर के दोनों ताले काटकर भीतर प्रवेश किया और सोने व चांदी के गहने चुरा लिए। सुबह दुकान में आस- पास के लोगों से चोरी होने की जानकारी मिली। बंसरी की शिकायत पर तहसील थाने के सहायक पुलिस निरीक्षक पाटील ने धारा  457, 380 के तहत मामला दर्ज किया है।

वाहन चोर से 1.80 लाख का माल जब्त 

उधर सेंट्रल जेल से जमानत पर छूटने के बाद दोबारा सेंधमारी और वाहन चुराने वाले आरोपी विक्की अनिल घोडे (19) को पुलिस ने चोरी के वाहन पर घूमते हुए धरदबोचा। आरोपी से चोरी के तीन दोपहिया वाहन व विविध कंपनियों के सात मोबाइल सहित करीब 1 लाख 80 हजार रुपए का माल जब्त किया। पुलिस के अनुसार  जे.टी. काॅम्पलेक्स, फ्लैट नं.-502, पांचवीं मंजिल, ओल्ड बगड़गंज निवासी चेतना प्रकाश जैन का दोपहिया वाहन क्र.-एम.एच.-29-ए.एफ.-7401  गत 1 अक्टूबर को कॉम्प्लेक्स की पार्किंग से चोरी हो गया था। वाहन की कीमत करीब 15 हजार रुपए है। चेतना की शिकायत पर नंदनवन पुलिस ने चोरी का मामला दर्ज किया। नंदनवन थाने के डीबी स्क्वॉड के हवलदार संजय साहू की टीम को गश्त के दौरान आरोपी विक्की घोडे, दसरा रोड, तुलसीबाग, महल कोतवाली निवासी दोपहिया वाहन पर संदिग्ध स्थिति में  घूमते हुए दिखाई देने पर उसे रोका। पूछताछ में संतोषजनक जवाब नहीं देने पर पुलिस अनिल को थाने ले गई और वहां कड़ाई से पूछताछ की। विक्की ने नंदनवन से दोपहिया वाहन चुराने की बात पुलिस को बताई। आरोपी को न्यायालय ने 10 अक्टूबर तक पुलिस रिमांड पर भेजा था। 

पेंटर ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

वहीं पारिवारिक कलह के चलते एक 40 वर्षीय व्यक्ति ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक का नाम जरीन्यम  फ्रांसिस कोलेक्स है। वह पेंटिंग का काम करता था। घटना 9 अक्टूबर को दोपहर में 3 बजे हुई।  पुलिस के अनुसार कैथलिक क्लब, खलासी लाइन, मोहन नगर निवासी जरीन्यम अपने परिवार के साथ रहता था। पत्नी के साथ घरेलू बातों को लेकर कहा-सुनी हुआ करती थी। इस पारिवारिक कलह के चलते जरीन्यम ने अपने घर में लकड़ी की बल्ली को दुपट्टा बांधकर फांसी लगा ली। परिजन तत्काल उसे उपचार के लिए मेयो ले गए, जहां प्राथमिक जांच में डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सदर थाने के उप-निरीक्षक महिपाले ने अस्पताल से सूचना मिलने पर आकस्मिक मृत्यु का मामला दर्ज किया।

शस्त्र लेकर घूम रहे बदमाश  को "फिल्मी स्टाइल' में पकड़ा

उधर नंदनवन पुलिस ने रात में गश्त के दौरान दोपहिया वाहन पर सवार युवक को संदेह के आधार पर रोकने का प्रयास करने पर उसने भागने की कोशिश की। पुलिस ने कुछ दूर तक फिल्मी स्टाइल में पीछा कर उसे  धरदबोचा। आरोपी का नाम शेख जावेद शेख रेहमान (37),  हसनबाग निवासी है। पुलिस ने आरोपी से दोपहिया वाहन, चाकू, दो मोबाइल फोन सहित करीब 60 हजार 200 रुपए का माल जब्त किया है। आरोपी पर आपराधिक मामले दर्ज होने की जानकारी पुलिस को मिली है। पुलिस आयुक्त अमितेशकुमार, उपायुक्त विवेक मसाड, सहायक पुलिस आयुक्त विजय मराठे के मार्गदर्शन में नंदनवन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक संदीपान पवार, सहायक पुलिस निरीक्षक शंकर एस. धायगुडे, आर.आर. राऊत, नायब सिपाही विकास टोंग, सिपाही प्रवीण भगत, स्वप्निल तांदुलकर, प्रेमकुमार खैरकर ने कार्रवाई की।

युवक पर यौन शोषण का मामला दर्ज

वहीं एक 22 वर्षीय युवक के खिलाफ शादी करने का झांसा देकर यौन शोषण करने का मामला युवती की शिकायत पर शुक्रवार को रामटेक पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया। पुलिस के अनुसार कलमना निवासी पीड़ित युवती गांधीबाग में एक कपड़े की दुकान में काम करती है। आरोपी युवक दानिश उर्फ सोनू रफीक खान (22), नागपुर ने उसे अपने प्रेमजाल फंसाया और अपनी गाड़ी पर घुमाने लगा। दानिश, पीड़िता को दिसंबर 2019 में खिंडसी, रामटेक घुमाने लाया था। यहां उसने  मूनलाइट होटल में युवती से शारीरिक संबंध स्थापित का प्रयास किया। युवती द्वारा मना करने पर दानिश ने जुलाई 2020 में शादी करने का झांसा देकर युवती का शारीरिक शोषण करता रहा। बताया गया कि, दानिश ने युवती से  जुलाई 2020 में आखिरी बार संबंध बनाए। उसके बाद सिर्फ बातचीत जारी रही। सितंबर माह में दानिश ने  बातचीत करना बंद कर दिया तथा पीड़िता को शादी से इनकार कर दिया। पीड़िता को फंसाए जाने की बात ध्यान में आते ही उसने रामटेक पुलिस स्टेशन में शिकायत की। पुलिस ने युवक के खिलाफ धारा 376 के तहत मामला दर्ज किया है। आरोपी की गिरफ्तारी अभी नहीं हुई है। 

राहगीर को अज्ञात वाहन ने कुचला

उधर खसाला गांव की ओर जाने वाली सड़क पर एक अज्ञात वाहन चालक ने 45 वर्षीय अज्ञात राहगीर को कुचल दिया। गंभीर रूप से जख्मी राहगीर की मेयो अस्पताल में मौत हो गई। पुलिस के अनुसार गत 9 अक्टूबर को रात करीब 11.30 बजे हादसा हुआ। जख्मी राहगीर को मेयो अस्पताल ले जाया गया, जहां प्राथमिक जांच के दौरान डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। कपिल नगर थाने के हवलदार नेमीचंद भोवते की शिकायत पर थाने के हवलदार कैलास ने अज्ञात वाहन चालक पर धारा 304(अ) के तहत मामला दर्ज किया है।

क्रिकेट सट्टा अड्डे पर छापा

उधर कुही में चल रहे एक क्रिकेट जुआ अड्डे पर पुलिस ने छापा मारकर तीन क्रिकेट बुकियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के नाम अंकिम योगेश मोहतुरे (23), विशाल राजेन्द्र आसवले (23) और महेश  संभाजी चव्हाण (24),  न्यू. नंदनवन, नागपुर निवासी है। तीनों बुकी रंगेहाथ पकड़े गए। आरोपियों से एलसीडी टीवी, एक लैपटॉप , एक लाइन मशीन रिसीवर, दो अलग-अलग कंपनियों के बेसिक फोन, एक स्पाइनगार्ड व अन्य सामग्री सहित करीब 1,03,700 रुपए का माल जब्त किया गया। आरोपियों पर कुही थाने में धारा  4, 5 महाराष्ट्र जुआ प्रतिबंधक कानून के तहत कार्रवाई की गई। ग्रामीण पुलिस अधीक्षक राकेश ओला के मार्गदर्शन में कार्रवाई की गई। ग्रामीण अपराध शाखा पुलिस दस्ते के पुलिस निरीक्षक अनिल जिट्टावार, एएसआई लक्ष्मीप्रसाद दुबे, मदन आसतकर, संतोष पंधरे, नायब सिपाही सत्यशील कोठारे, राधेश्याम कांबले, प्रणय बनाफर, बालाजी साखरे व हवलदार भाऊराव खंडाते ने कार्रवाई में सहयोग किया। 

करंट लगने से युवक की मौत

उधर नया पुलिस स्टेशन अंतर्गत सैलाब नगर झोपड़पट्टी में शनिवार को सुबह 5 बजे के करीब कूलर का करंट लगने से एक 26 वर्षीय मो. फैज मो. नियाज नामक युवक की मौत हो गई। सुबह मो. फैज एवं उसके पिताजी जागे थे तथा परिवार के अन्य सदस्य सोए हुए थे। इस दौरान घर के बाहर जाते समय फैज का कूलर को हाथ लगने पर उसे जोरदार करंट लगा। उसकी चीख सुनकर पत्नी एवं छोटा भाई जाग गए और उसे तुरंत उपजिला अस्पताल उपचार के लिए ले गए, डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलते ही पीएसआई मंुढे घटनास्थल पर पहंुचे।  पंचनामा कर उपजिला अस्पताल पहंुचे। परिजनों द्वारा शव का पोस्टमार्टम नहीं करने के बारे में लिखित देने पर शव बिना पोस्टमार्टम के ही परिवार को सौंप दिया गया। मृतक युवक पर परिवार के पालन-पोषण की जिम्मेदारी थी। उसे दो माह की बच्ची, पत्नी, पिता, छोटा भाई है।

कॉलेज संचालक के घर से गहने व नकदी चोरी

उधर सोनेगांव क्षेत्र में कॉलेज संचालक के मकान का ताला तोड़कर अज्ञात चोर चांदी के गहने व नकदी सहित करीब 10 हजार रुपए का माल चुरा ले गए। घटना 19 से 24 सितंबर के बीच दिलीप प्रभाकर पांडे के मकान में हुई। घटना के समय दिलीप पांडे परिवार के साथ भोपाल में थे। वह अपने बड़े भाई संजय पांडे के अंतिम संस्कार में गए थे। पुलिस के अनुसार प्लॉट नं.-16 भेंडे ले-आउट, स्वालंबी नगर  निवासी दिलीप पांडे ने सोनेगांव थाने में चोरी का मामला दर्ज कराया है। उन्होंने पुलिस को बताया कि, वे मुलताई में वीएनएस कॉलेज के संचालक हैं। उनके बड़े भाई संजय पांडे की मुंबई में  कैंसर से उपचार के दौरान मौत हो गई। वह 19 सितंबर को मकान को ताला लगाकर पत्नी और बेटी के साथ मुंबई गए थे। वहां से अंतिम संस्कार करने के लिए परिवार के साथ भोपाल चले गए। इसी दौरान मकान का ताला तोड़कर अज्ञात चोर अलमारी में रखे 750 ग्राम चांदी की थाली, नकद 3000 रुपए चुरा ले गए। पड़ोसी शैलेश टेंभरीकर ने 24 सितंबर को उन्हें सुबह करीब 6 बजे मकान में चोरी होने की जानकारी दी। दिलीप के कहने पर शैलेश ने पुलिस को सूचना दी। 5 अक्टूबर को भोपाल से वापस लौटने पर दिलीप पांडे ने सोनेगांव थाने में शिकायत की। 

कमेंट करें
46hAw
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।