comScore

डकैतों ने दो घंटे घर में मचाया आतंक , बुजुर्ग की हत्या, पत्नी और बेटा गंभीर

डकैतों ने दो घंटे घर में मचाया आतंक , बुजुर्ग की हत्या, पत्नी और बेटा गंभीर

डिजिटल डेस्क, छिंदवाड़ा। उमरानाला चौकी क्षेत्र के ग्राम उमरिया में गुरुवार-शुक्रवार दरमियानी रात डकैती की बड़ी वारदात सामने आई। खेत के बीच में बने एक मकान में 10 से 12 डकैतों ने लगभग दो घंटे तक आतंक मचाया। विरोध करने पर 70 वर्षीय बुजुर्ग के सिर पर रॉड मारकर हत्या कर दी। वहीं बुजुर्ग की पत्नी और बेटे पर धारदार हथियार से हमला दिया। इस हमले में मां-बेटे को गंभीर चोटें आई है। जिन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल लाकर भर्ती कराया गया है। डकैतों के हौसले इतने बुलंद थे कि जाते-जाते मृतक की बहू से चाय बनवाई और कुछ बदमाशों ने साथ लाई दारू भी पी। वारदात की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक समेत पूरा पुलिस महकमा मौके पर पहुंच गया था। डकैती के बाद हत्या की जानकारी मिलने पर सौंसर विधायक भी मौके पर पहुंचे थे।सौंसर एसडीओपी आरके सिंह ने बताया कि गुरुवार रात एक बजे मकान के पिछले दरवाजे को तोडकऱ डकैत अंदर घुसे। घर के एक कमरे में भीमराव पिता फकीर पाठे (31) अपने एक साल के बेटे दक्ष और पत्नी पूजा पाठे (21) के साथ सो रहा था। डकैतों ने कमरे में घुसते ही भीमराव के साथ मारपीट शुरू कर दी। भीमराव उसकी पत्नी और बेटे को आरोपी बगल के कमरे में ले गए। आवाज सुनकर पिता फकीर पाठे (70) और मां भागाबाई (65) की नींद खुल गई। सामने वाले कमरे से वे भीतर पहुंचे तो डकैतों ने उनके साथ भी मारपीट शुरू कर दी। विरोध करने पर आरोपियों ने फकीर पाठे के सिर पर रॉड मार दी। जिससे उसकी मौके पर मौत हो गई। इसके बाद डकैतों ने आलमारी में रखे 80 हजार रुपए और लगभग डेढ़ लाख रुपए के जेवर निकालकर फरार हो गए। पुलिस ने डकैतों के खिलाफ धारा 396 के तहत मामला दर्ज किया है। 

बेटे को फंदे पर लटकाने का प्रयास

डकैतों ने भीमराव के साथ मारपीट की और उसे फांसी लगाने के लिए फंदा भी तैयार कर लिया था। परिवार के सदस्यों ने डकैतों के सामने गुहार लगाई तब कहीं उन्होंने भीमराव को छोड़ा। इस बीच एक आरोपी ने भीमराव के सिर पर तलवार से वार कर दिया। जिससे उसके सिर पर गंभीर चोट आई है। वहीं मां भागाबाई का मारपीट में हाथ टूट गया और पसली पर गंभीर चोट आई है। गनीमत है कि डकैतों ने महिला और एक साल के बच्चे के साथ मारपीट नहीं की। 

डकैतों ने पहले महिला को चाय पिलाई

डकैतों ने जाते-जाते मृतक फकीर की बहू पूजा से चाय बनाने कहा। पूजा के मुताबिक आरोपियों ने चाय पीने से पहले उसे चाय पीने कहा। डकैतों को संदेह था कि महिला ने चाय में कोई जहरीला पदार्थ मिलाया है। महिला के चाय पीने के बाद चार डकैतों ने इत्मीनान से चाय पी।

चखने में मांगी दाल, नहीं मिली तो कच्चे चिप्स खाएं

पीडि़ता पूजा पाठे ने बताया कि कुछ डकैतों ने साथ लाई दारू पीने के लिए उससे गिलास लिए और खाने के लिए दाल मांगी। जब वह कीचन की ओर जाने लगी तो एक आरोपी ने उसे रोक दिया। वहीं दूसरे आरोपी ने पास रखे डब्बे से कच्चे चिप्स निकाले जिसके साथ उन्होंने दारू पी।

क्या कहते हैं अधिकारी

डकैती और हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों की धरपकड़ लिए आधा दर्जन टीमें बनाई गई है। आरोपियों में लोकल बदमाशों के शामिल होने का पूरा संदेह है। कुछ संदेहियों को राउंडअप किया गया है। जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी। - मनोज राय, एसपी
 

कमेंट करें
tzh9S