comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

दैनिक भास्कर गरबा महोत्सव : लाइव म्यूजिक पर थिरकते कदमों के बीच हर उम्र में दिखा सेल्फी का क्रेज

दैनिक भास्कर गरबा महोत्सव : लाइव म्यूजिक पर थिरकते कदमों के बीच हर उम्र में दिखा सेल्फी का क्रेज

डिजिटल डेस्क, नागपुर। भारतीय सैनिकों का प्रतिनिधित्व करते गरबे के प्रतिभागियों ने मां की आराधना की, ग्राउंड में उपस्थित सभी ने सैनिकों को सलाम किया। दैनिक भास्कर गरबा महोत्सव के दूसरे दिन परफेक्ट ड्रेस के साथ परफेक्ट मेकअप और एक दूसरे से मिलते कॉम्पलिमेंट के बीच सेल्फीज का दौर और एफबी पर उसी समय अपडेट सोशल साइट पर एंजॉय करने का अंदाज यूथ का रहा। गरबे में सेल्फी का जुनून लोगों के सिर चढ़कर बोल रहा था।  लाइव म्यूजिक पर थिरकते कदमों के बीच हर एज ग्रुप के लोग सेल्फी लेने से नहीं चूक रहे हैं। विजिटर्स के लिए बनाए गए सर्किल में भी लोगों ने खूब एंजॉय किया। गरबा महोत्सव में आकर्षक का केंद्र रही महाराणा प्रताप फेम अंजलि प्रिया। जैसे ही मंच से उतरकर वे प्रतिभागियों के साथ गरबा खेलने आईं, तो पूरा परिसर मां की जयकारा से गूंज उठा। 

संगीत की जादूगरी में खोए दर्शक

गरबा महोत्सव में ट्रेडिशनल गुजराती ड्रेस, चेहरे पर खिली मुस्कान, हाथों में डांडिया और मन में उमंग का सैलाब। सुरों की गोद में बैठकर अठखेलियां करते कलाकार, संगीत की जादूगरी में खोते दर्शकों भी गरबा करने के लिए मजबूर कर दिया। युवा भक्ति रस में डूबे रहे।  संगीत की जादूगरी बिखेरते शिवराया बैंड के पारंपरिक गरबा और कंटेम्परेरी फ्यूजन म्यूजिक की ताल पर जादुई रंग गरबा ग्राउंड में बिखेर दिया। साथ ही भगवा रंग के सांग को ढोल मिक्स बनाया, जिससे कदमों के नहीं रुकने की जिद और डांडिया की खनक ने पूरे माहौल को उत्सव में बदल दिया। एक ही स्थान पर शक्ति-भक्ति, उजास और उल्लास का संगम देखने को मिला। 

हर तरह के रोल करना चाहती हूं- अंजलि

दैनिक भास्कर गरबा में आकर्षण का केंद्र रही टीवी एक्ट्रेस अंजलि प्रिया भारत का वीर पुत्र- महाराणा प्रताप, कृष्णदासी, भूतू और मैं भी अर्धांगिनी में अभिनय कर रही हैं। भास्कर से विशेष बातचीत में अंजलि ने कहा कि उनका सबसे पहला धारावाहिक शो "भारत का वीर पुत्र- महराणा प्रताप' था जो ऐतिहासिक घटनाओं पर आधारित था। इसमें शूटिंग से पहले उन्होंने घुड़सवारी और तलवार चलाने की ट्रेनिंग ली थी। इसके साथ ही इस शो में अपनी अदाकारी में भी बहुत कुछ सीखा है। अनुभव के साथ कला में भी निखार आता गया। वर्तमान में ‘मैं भी अर्धांगिनी’ शो में वे एक भूत का रोल निभा रही ही। पहले इस रोल के लिए उन्हें सबने मना किया था, लेकिन कास्टिंग डायरेक्टर ने रोल के बारे में बताया और वह भी इसके लिए बहुत उत्साहित थी। एक भूत का रोल सुनने पर उनमें इतना उत्साह नहीं था जितना रोल समझ आने पर हुआ। उन्होंने कहा कि वे अपनी लाइफ में मल्टीटास्किंग हैं। कथक के साथ ही गायन भी करती है, लेकिन अदाकारी उनके लिए सबसे बेहतर है। उन्होंने अपने आप को किसी ड्रीम रोल के लिए तैयार नहीं किया है। वे हर तरह के रोल करना चाहती है।

विशेष उपस्थिति

गरबे के दौरान सीमा त्रिपाठी, पूनम पाठक, राहुल त्रिपाठी, इशिता पाठक, समृद्धि त्रिपाठी, शैलजा पाठक, शाम्भवी त्रिपाठी, नमन त्रिपाठी, राष्ट्रीय परिषद सदस्य सुभाष कोटेचा, वेणुगोपाल अग्रवाल, गायक कलाकार एम ए कादर, जीनत कादर, अजीज पटेल, रुबीना पटेल, ओवेस पटेल, समीहा पटेल, मायेशा खान, मोहित अग्रवाल, सीए कैलाश जोगानी, रीना जोगानी आदि उपस्थित थे। निर्णायक के रूप में मधुबाला सिंह, भावना बदियानी, शीतल अग्रवाल उपस्थित थे।
 

कमेंट करें
yTUut