राज्य सरकार का दावा : यूक्रेन संकट के चलते मुंबई लोकल ट्रेन यात्रा को लेकर फैसले लेने में हो रही देरी

February 28th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। बांबे हाईकोर्ट ने कोविडरोधी एक टीका लेनेवाले लोगों के लोकल ट्रेन से सफर की अनुमति देने के विषय में राज्य सरकार को निर्णय लेने के लिए दो दिन का समय दिया है। इससे पहले सरकारी वकील प्रियभूषण काकडे ने मुख्य न्यायाधीश दीपांकर दत्ता व न्यायमूर्ति एमएस कर्णिक की खंडपीठ के सामने कहा कि इस विषय को लेकर बैठक हो चुकी है। इसका मसौदा भी तैयार कर लिया गया है। सभी जारी दस्तावेज हस्ताक्षर के लिए राज्य के मुख्य सचिव के सामने रखे जा चुके हैं। यूक्रेन में पैदा हुए संकट के चलते सरकारी अधिकारी वहां पर फंसे महाराष्ट्र के विद्यार्थियों को यहां लाने के कार्य में जुटे हुए थे। इसलिए इस बारे में निर्णय नहीं लिया जा सका। इसके लिए सरकार को दो दिन का समय दिया जाए। सरकारी वकील के इस आग्रह को स्वीकार करते हुए खंडपीठ ने याचिका पर सुनवाई 2 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी। फिलहाल जिन्होंने कोरोना के टीके की दोनो खुराक ली है। उन्हें ही लोकल ट्रेन से यात्रा की अनुमति है। 

 

खबरें और भी हैं...