फैक्ट चैक: क्या जेल से वापस आने के बाद आजम खान ने राम, कृष्ण को बताया अपना आदर्श? जाने वायरल वीडियो का सच

June 24th, 2022

डिजिटल डेस्क, भोपाल। समाजवादी पार्टी के नेता आजम का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर बड़ा वायरल हो रहा है। वीडियो में आजम खान बोलते हुए दिख रहे हैं कि, योगी जी मुगल हमारे आदर्श नहीं हैं, हमारे आदर्श राम हैं कृष्ण जी भी हैं। सोशल मीडिया पर कुछ लोग इस वीडियो को इस दावे के साथ शेयर कर रहे हैं कि जेल में रहने के बाद आजम खान की अक्ल ठिकाने आ गई है, उनके सुर बदल गए हैं। बता दें कि जमीन पर जबरदस्ती कब्जा करने समेत कई मामलों में जेल में रहने के बाद आजम खान पिछले महिने ही जेल से बाहर आए थे। 

 

पड़ताल -  वायरल वीडियो की हमारी टीम ने पड़ताल की। हमने वायरल वीडियो को गूगल पर कीवर्ड्स की सहायता से सर्च किया। सर्च में हमें समाजवादी के ऑफिशियल यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो मिला। 7 अक्टूबर 2017 को अपलोड किया गया यह वीडियो आगरा में हुए पार्टी के 10वें राष्ट्रीय सम्मेलन का था। इस वीडियो में आजम खान कहते हुए दिख रहे हैं कि, कुरान व पैगंबर ने कहा है कि किसी के मजहबी पेशवा या किसी भी धर्म के महापुरुषों का अपमान न कीजिए, क्योंकि अल्लाह ने 1,20000 पैगंबर जमीन पर भेजे थे और दुनिया में जितने भी महापुरुष थे, हो सकता है वो उनके जमाने के पैगंबर रहे हों, अल्लाह के दूत रहे हों। इसलिए योगी जी मुगल हमारे आदर्श नहीं हैं, बल्कि राम और कृष्ण हमारे आदर्श हैं, लेकिन हम ये जानना चाहते हैं कि पैगंबर और ईसा मसीह आपके आदर्श हैं या नहीं। हमें बताइए। 

 

 

इसके अतिरिक्त सर्च करने पर हमें कई अखबारों की रिपोर्ट मिली। जिनमें आजम खान द्वारा आगरा में आयोजित पार्टी के राष्ट्रीय सम्मेलन में पीएम मोदी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर कटाक्ष करने की बात प्रकाशित हुई। वहीं एबीपी न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, खान ने आगरा में समाजवादी पार्टी के आगरा में आयोजित दसवें अधिवेशन के दौरान यह भाषण दिया था। 

 
इस तरह हमने अपनी पड़ताल में पाया कि आजम खान ने अपनी हालिया जेल यात्रा के बाद राम, कृष्ण को अपना आदर्श नहीं कहा था। बल्कि यह बात उन्होंने पांच साल पहले 2017 में सपा के राष्ट्रीय सम्मेलन के दौरान पीएम मोदी व सीएम योगी आदित्यनाथ पर तंज कसते हुए कही थी। 
 

खबरें और भी हैं...