मिशन कवच कुंडल का असर: शत-प्रतिशत टीकाकरण मुहिम में गोंदिया के 154 गांवों ने मारी बाजी

November 26th, 2021

डिजिटल डेस्क, गोंदिया। राज्य शासन के मिशन कवच कुंडल अभियान के अनुसार आयु समूह 18 वर्ष के नागरिकों के लिए पहला डोज प्राथमिकता से देने का नियोजन किया गया। जिले में 1 हजार 87 गांवों में से 154 गांवों ने टीकाकरण का पहला डोज लेकर शत-प्रतिशत टीकाकरण पूर्ण किया है। उसी प्रकार तकरीबन 745 गांवों ने जनसंख्या के 81 से 99 प्रतिशत टीकाकरण कर शत-प्रतिशत टीकाकरण करने की दिशा में अग्रसर है। ऐसी जानकारी जिला स्वास्थ्य विभाग से मिली है। जानकारी के अनुसार जिले का पहला डोज शत-प्रतिशत गांव 154 होकर तहसीलवार गोंदिया 48, अर्जुनी मोरगांव 45, देवरी 20, तिरोड़ा 18, सालेकसा 14, आमगांव 6, गोरेगांव 2 व सड़ अर्जुनी के 1 गांव का समावेश है। जिले की 40 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में से केशोरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ने सभी 35 गांवों में टीकाकरण का पहला डोज शत-प्रतिशत कर लक्ष्य प्राप्त किया है। जिला प्रशासन व जिला स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से जिले में 16 जनवरी 2021 से कोरोना प्रतिबंधक टीकाकरण अभियान शुरू हुआ है। समय-समय पर डोज की उपलब्धता के अनुसार स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से टीकाकरण केंद्र निर्माण कर नागरिकों के लिए कोरोना पर प्रतिबंधक उपाय योजना के तौर पर टीकाकरण डोज उपलब्ध कर दिया गया है। कोविड टीकाकरण गांवों का वर्गीकरण ध्यान में रख जनसंख्या के 71 से 80 प्रतिशत टीकाकरण 104 गांवों ने पूर्ण किया है। वहीं जनसंख्या के 61 से 70 प्रतिशत टीकाकरण 54 गांव, जनसंख्या के 51 से 60 प्रतिशत टीकाकरण 23 गांव व जनसंख्या के 41 से 50 प्रतिशत टीकाकरण 7 गांवों ने पूर्ण किया है। हर घर दस्तक अभियान के अंतर्गत जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की ओर से टीकाकरण को गति देने के लिए विविध प्रतिबंधात्मक उपाय योजना किए जा रहे हैं। नागरिकों के मन में टीकाकरण के प्रति जो भ्रम है, उसे दूर करने के लिए जिलाधिकारी ने सभी उपविभागीय अधिकारी, तहसीलदार, पुलिस उपविभागीय अधिकारी के एकत्रित सहयोग से कम टीकाकरण वाले गांवों में भेंट देकर समस्या दूर करने का नियोजन किया गया है। उसी प्रकार ग्रामीण क्षेत्र में जिप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने सभी पंचायत समिति के गुट विकास अधिकारी, तहसील स्वास्थ्य अधिकारी, सरपंच, उपसरपंच, स्वयंसेवी संस्था, आशा सेविका, स्वास्थ्य कर्मचारियों के माध्यम से गांव-गांव में शोध अभियान चलाकर टीकाकरण करने संदर्भ में जनजागृति की जा रही है। उपरोक्त गांवों में टीकाकरण का पहला डोज शत-प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त करने के लिए यहां के चिकित्सा अधिकारी डाॅ. पिंकू मंडल व उनके सहयोगी कर्मचारियों के दल के प्रयासों से ही 26 अक्टूबर को सभी गांवों ने टीकाकरण का प्रथम डोज पूर्ण किया गया है। 

टीकाकरण शििवर को सांसद मेंढे ने दी भेंट

उधर अर्जुनी मोर में 50 प्रतिशत से कम टीकाकरण करनेवाले गावों में टीकाकरण का प्रतिशत बढ़ाने के लिए आयोजित "हर घर दस्तक कार्यक्रम' के तहत गोंदिया जिले के अर्जुनी मोरगांव तहसील के नवेगावबांध में हाल ही में विशेष शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर को सांसद सुनील मेंढे ने भेंट देकर संपूर्ण परिस्थिति का जायजा लिया तथा अधिक से अधिक टीकाकरण हो, इसके लिए प्रयास करने की सूचना दी। गांव के प्रतिष्ठित लोगों को साथ में लेकर संपूर्ण गांव टीकाकरण करने की जिम्मेदारी गांव के सरपंच, उपसरपंच और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को दी गई। इसके लिए विशेष रूप से नियोजन कर संपूर्ण गांव के टीकाकरण का उद्देश्य हासिल करने का प्रयास करें। ऐसे निर्देश सांसद सुनील मेंढे ने दिए। इस समय सांसद सुनील मेंढे के साथ पूर्व मंत्री राजकुमार बडोले, भाजपा संपर्क प्रमुख वीरेंद्र अंजनकर, रचना गहाने, जिला महामंत्री लायकराम भेंडारकर, तहसील अध्यक्ष अरविंद शिवणकर, तहसीलदार मेश्राम, स्वास्थ्य अधिकारी सहित स्वास्थ्य विभाग की टीम, पूर्व सरपंच रघुनाथ लांजेवार और भाजपा के पदाधिकारी उपस्थित थे।

 

खबरें और भी हैं...