comScore

पिछले माह नहीं बंटा बिजली बिल, इस माह भी आसार नहीं

February 08th, 2019 18:00 IST
पिछले माह नहीं बंटा बिजली बिल, इस माह भी आसार नहीं

डिजिटल डेस्क, शहडोल। जिले के अधिकतर बिजली उपभोक्ताओं को जनवरी माह का बिल नहीं मिला था। फरवरी में भी बिल वितरण होने की कोई संभावना नहीं है। इसका कारण यह है कि भोपाल की जिस कंपनी को जिले में मीटर रीडिंग और विल वितरण का काम दिया गया था, उसने अभी तक काम ही शुरू नहीं किया है। कंपनी का ठेका निरस्त करने की कवायद की जा रही है।

कंपनी के वरिष्ठ अधिकारियों के अनुसार दिसंबर माह में भोपाल की पहल इन्फोसिस्टम को जिले में मीटर रीडिंग और बिल वितरण का ठेका दिया गया था। जनवरी से उसे काम शुरू करना था, लेकिन कंपनी अभी तक सभी जगह अपना काम शुरू नहीं कर पाई है। बताया जाता है कि कंपनी ने विभिन्न स्थानों पर मीटर वाचकों की नियुक्ति ही नहीं की है। जो नियुक्तियां हुई भी थीं कम पेमेंट के चलते लोगों ने छोड़ दी हैं। जनवरी माह में इसी के चलते जिले के शहरी और ग्रामीण इलाकों में बिल का वितरण नहीं हो पाया था।

कार्यालय जाकर पता करें बिल
मप्र विद्युत वितरण कंपनी के ईई मुकेश सिंह ने बताया कि ठेका कंपनी की कार्यप्रणाली को देखते हुए नहीं लगता है कि इस माह भी बिल का वितरण हो पाएगा, क्योंकि महीने की दो तारीख तक मीटर रीडिंग होनी थी, जो अभी तक नहीं हुई है। कंपनी को जिले में कुल 193 मीटर वाचक उपलब्ध कराने थे, जो उसने उपलब्ध नहीं कराए हैं। जो रेट वह मीटर वाचकों को दे रहा है, उस रेट पर कोई काम करने को तैयार ही नहीं है। जहां भी उसने नियुक्तियां की हैं। एक-दो दिन काम करने के बाद लोग भाग जाते हैं।  

निरस्त हो सकता है ठेका
मध्य प्रदेश विद्युत वितरण कंपनी के शहडोल कार्यालय की ओर से वरिष्ठ अधिकारियों को पहल इन्फोसिस्टम कंपनी का ठेका निरस्त करने की अनुशंसा की गई है। पत्र में कहा गया है कि संबंधित फर्म द्वारा अनुबंध की शर्तो के अनुरूप कार्य नहीं किया जा रहा है। इसके चलते माह जनवरी में मात्र 33 फीसदी रीडिंग ही हो सकी थी। पत्र में इस बात का भी उल्लेख किया गया है कि फर्म द्वारा किसी भी मीटर वाचक के दस्तावेज कार्यालय को उलब्ध नहीं कराए गए हैं।

विभाग को हो रहा नुकसान
पत्र में यह भी कहा गया है कि संबंधित फर्म को समय-समय पर कमियों के संबंध में अवगत कराया गया। ई-मेल भी किए गए, लेकिन इसका कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला है। पिछले माह भी हमने विभागीय अमले की मदद से मीटर रीडिंग कराई थी। बता दें कि वर्तमान में शहडोल शहर में 32 हजार कनेक्शनधारी हैं। वहीं जिले में कुल एक लाख 95 हजार बिजली उपभोक्ता हैं। पहल इन्फोसिस्टम द्वारा कार्य न कराए जाने से कंपनी को राजस्व क्षति हो रही है।

कमेंट करें
vJTeq