नागपुर: हर तीसरा पॉजिटिव - 4,428 छलांग लगा रही संक्रमितों की संख्या

January 21st, 2022

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कोरोना का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हैं। इसके बावजूद कोरोना नियंत्रण के बाहर होता जा रहा है। जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या अब छलांग लगा रही है। मौत का आंकड़ा भी बढ़ने लगा है। पिछले 15 दिनों में कोरोना के आंकड़ों ने प्रशासन की नींद उड़ा दी है। गुरुवार को 4428 नए मरीज मिले हैं। वहीं 1985 मरीज स्वस्थ हुए हैं। इस दिन 6 लोगों की मौत हुई है। जनवरी महीने की शुरुआत से ही हर दिन कोरोना के नए-नए रिकॉर्ड आंकड़े सामने आ रहे हैं। प्रशासन द्वारा कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग का दावा किया जा रहा है, लेकिन हकीकत में ऐसा होता दिखाई नहीं दे रहा है।

ऐसी रही स्थिति

गुरुवार को 13848 सैंपल की जांच की गई। इनमें शहर के 10017 और ग्रामीण के 3831 का समावेश है। इनमें से 4428 सैंपल पॉजिटिव पाए गए हैं। पॉजिटिव में शहर के 3186, ग्रामीण के 1153 और जिले के बाहर के 89 शामिल हैं। अब तक मिले कुल पॉजिटिव मरीजों की संख्या 521654 हो चुकी है। 
गुरुवार को कुल 1985 मरीज स्वस्थ हुए हैं। इनमें शहर के 1497, ग्रामीण के 434 व जिले के बाहर के 54 शामिल हैं। अब तक कुल 492828 मरीज स्वस्थ हुए हैं। जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या 18679 हो चुकी है। एक्टिव मरीजों में शहर के 14819, ग्रामीण के 3656 और जिले के बाहर के 204 शामिल हैं। कोरोना रिकवरी दर 94.47 फीसदी हो चुकी है। 

गुरुवार को जिले में कोरोना से 6 लोगों की मौत हुई है। अब तक कुल 10147 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें शहर के 5910, ग्रामीण के 2606 व जिले के बाहर के 1631 मृतक हैं। 

इस दिन एम्स में 1714, मेडिकल में 2149, मेयो में 2756, नीरी में 333, निजी लैब में 4330 और एंटीजन पद्धति से 2566 सैंपल की जांच की गई। एक्टिव मरीजों में से 13250 गृह विलगीकरण, मेडिकल में 105, मेयो में 42, एम्स में 52 व अन्य निजी अस्पतालों में भर्ती हैं।

दर्जन भर अधिकारी सहित अनेक नगरसेवक पॉजिटिव

मनपा की आमसभा में कोरोना ने रोड़ा डाल दिया है। दर्जन भर अधिकारी तथा अनेक नगरसेवकों के कोराेना पॉजिटिव होने के कारण 21 जनवरी की आमसभा स्थगित करनी पड़ी। अब 25 जनवरी को आमसभा बुलाई गई है। यह सभा भी ऑनलाइन होगी। मनपा के दर्जन भर अधिकारी कोरोना पॉजिटिव हैं। अनेक नगरसेवक भी संक्रमित हो गए हैं। कोविड के दिशा-निर्देश के अनुसार उन्हें 7 दिन होम आइसोलेशन में रहना अनिवार्य है। इस कारण आमसभा 4 दिन आगे बढ़ाई गई है। अतिरिक्त आयुक्त दीपक कुमार मीणा, उपायुक्त निर्भय जैन, सहायक आयुक्त महेश धामेचा, स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. संजय चिलकर, घनकचरा प्रबंधन नोडल अधिकारी डॉ. गजेंद्र महल्ले, उद्यान अधीक्षक अमोल चौरपगार तथा अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारी कोरोना पॉजिटिव हैं। उपायुक्त मिलिंद मेश्राम भी पॉजिटिव हुए थे। मुंबई दौरे में आयुक्त राधाकृष्णन बी. उनके साथ थे। मेश्राम के पॉजिटिव आने पर आयुक्त स्वयं होम आइसोलेट हो गए। अवधि पूरा होने पर गुरुवार को मनपा पहुंचे। महापौर दयाशंकर तिवारी के परिवार में 6 सदस्य कोविड पॉजिटिव हैं। इसलिए उन्होंने अपने-आप को होम आइसोलेट कर लिया है। 

शहर में स्कूल खोलने का निर्णय अभी नहीं

राज्य सरकार ने भले ही सोमवार से स्कूल खोलने का निर्णय लिया है, लेकिन महानगरपालिका ने शहर में स्कूल खोलने का फिलहाल कोई निर्णय नहीं लिया है। शहर में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ने के कारण शहर के स्कूल बंद ही रखने की सूत्रों से जानकारी मिली है। मार्च 2020 में कोरोना के दस्तक देने पर स्कूल बंद कर दिए गए। राज्य सरकार ने 1 दिसंबर से स्कूल खोलने का निर्णय लिया था। स्थानीय प्राधिकरण को अपने कार्यक्षेत्र की स्थिति का जायजा लेकर निर्णय लेने का अधिकार दिया था। मनपा आयुक्त ने प्राप्त अधिकार का उपयोग कर 15 दिसंबर के बाद यानी 16 दिसंबर से स्कूल खोलने की घोषणा की। 20 दिन स्कूल खुले रहे। जनवरी की शुरुआत से ही कोरोना संक्रमण बढ़ने पर स्कूल बंद करने पड़े। 15 फरवरी तक स्कूल बंद रखने के आदेश जारी किए गए हैं।