comScore

फडणवीस बोले - सोनू सूद भाजपाई- जान कर खुशी हुई, बैकफुट पर आए राऊत

फडणवीस बोले - सोनू सूद भाजपाई- जान कर खुशी हुई, बैकफुट पर आए राऊत

डिजिटल डेस्क, मुंबई। विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि हमें खुशी है कि शिवसेना ने अभिनेता सोनू सूद को भाजपा का बताया है। सोमवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत में फडणवीस ने कहा कि शिवसेना का विश्वास नजर आता है कि अच्छे काम करने वाले लोग भाजपा में हैं। इसलिए हम शिवसेना का आभार व्यक्त करते हैं। लेकिन सोनू पर अन्याय नहीं होना चाहिए। इसलिए मैं कह रहा हूं कि सोनू ने अपने भरोसे और हिम्मत पर प्रवासी मजदूरों को गांवों में पहुंचाने का काम किया है। इसकी प्रशंसा होनी चाहिए। 

फडणवीस ने कहा कि संकट काल में मदद करने वालों की हौसला अफजाई करनी चाहिए। रविवार को सोनू के साथ जिस तरीके से व्यवहार हुआ है वह गलत है। फडणवीस ने कहा कि मैं जब राज्य का मुख्यमंत्री था, तो सरकार ने जलयुक्त शिवार योजना शुरू की थी। जलयुक्त शिवार योजना के लिए अभिनेता नाना पाटेकर के नाम फाउंडेशन और अभिनेता आमिर खान के पानी फाउंडेशन ने काम किया। उस समय सरकार ने इन संस्थाओं की मदद की थी। 

बैकफुट पर आए राऊत, सोशल मीडिया पर आलोचना 

शिवसेना के मुखपत्र सामना के साप्ताहिक स्तंभ में अभिनेता सोनू सूद के पीछे भाजपा का हाथ बताने वाले सांसद संजय राऊत को अपनी ही पार्टी का साथ नहीं मिला। सोनू को लेकर राऊत की भूमिका से शिवसेना सहमत नहीं दे रही। इस कारण राऊत को बैक बैकफुट पर आना पड़ा। राऊत के कारण सोशल मीडिया पर शिवसेना की जमकर आलोचना हुई। इसके बाद शिवसेना ने देर रात डैमेज कंट्रोल करने की कोशिश की। दिन भर चले विवाद के बाद सोनू देर रात मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मिलने मातोश्री में पहुंच गए। उद्धव के साथ प्रदेश के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे भी मौजूद थे। सूत्रों के अनुसार इस मामले में पर्दा डालने का फैसला आदित्य का ही था। आदित्य के कहने पर कांग्रेस नेता व प्रदेश के वस्त्रोद्योग मंत्री असलम शेख सोनू के साथ मातोश्री पहुंचे थे। सोनू से मिलने के बाद आदित्य ने ट्वीट किया कि हम मिलकर साथ काम करेंगे। इस मामले के बाद अब साफ नजर आ रहा है कि आदित्य ही आगे शिवसेना की लाइन तय करेंगे। 
 

कमेंट करें
94UkR