लकड़बग्घा और तेंदुए की हो रही पुष्टी: बाघ की दहशत से सकतें आए किसान, मौके पर पहुंचा वन विभाग का अमला

December 4th, 2021

डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा/पांढुर्ना ।  ग्राम बड़चिचोली से घोगरी की ओर जाने वाले कच्चे रास्ते से सटे एक खेत में काम कर रहे मजदूरों को जंगली जानवर दिखने से मजदूर और स्थानीय किसान दहशत में आ गए। शनिवार की दोपहर बाघ होने की दहशत में आकर सभी किसान मौके से दूर जाकर एकजुट हो गए। सूचना मिलने के बाद वन अमले ने पगमार्क के आधार पर लकड़बग्घा या तेंदुआ होने की पुष्टी की है जबकि  प्रत्यक्षदर्शियों के  बयान पर अब वन अमला सर्चिंग कर रहा है। मिली जानकारी के अनुसार ग्राम बड़चिचोली के किसान और कोटवार कांतु गजभिए घोगरी के कच्चे रास्ते पर मौजूद अपने खेत में कपास चुन रहे थे। इस दौरान खेत के मेढ़ पर करीब सौ मीटर दूरी पर बाघ के जैसा जंगली जानवर दिखा। जानवर देखकर कोटवार और उनकी पत्नी दहशत में आ गए और वहां से भागकर दूसरे खेतों में काम कर रहे अन्य किसानों के पास पहुंच गए। यहां आसपास के सभी किसान एकत्र हो गए। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार जानवर घोघरी जंगल की ओर चला गया। घटना की सूचना वन विभाग को दी गई, जिसके बाद वनरक्षक मनीष शर्मा और उमेश यादव ने मौके पर पहुंचकर सर्चिंग शुरू की। खेतों में मिले पगमार्क के अनुसार वन अमले ने लकड़बग्घा या तेंदुआ होने की बात कही। वहीं ग्रामीणों के बताए अनुसार आसपास के खेत और जंगल के रास्ते से जानकारी जुटाई।
दहशत में आए किसान: किसानों के अनुसार बाघ होने की खबर आसपास के ग्रामीण और किसानों को लगने से यहां दहशत की स्थिति बन गई। हालांकि वन अमले ने लकड़बग्घा या तेंदुआ होने की बात कही है। पर घटना के कारण किसान काफी भयभीत हो गए। घटना के बाद किसानों ने खेतों में काम बंद कर दिया और घर लौट आए।

खबरें और भी हैं...